Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » बोलती बंद हो जाना अर्थ, प्रयोग (Bolti band ho jana)

बोलती बंद हो जाना अर्थ, प्रयोग (Bolti band ho jana)

परिचय: “बोलती बंद हो जाना” एक लोकप्रिय हिंदी मुहावरा है जो एक व्यक्ति के चुप हो जाने या शब्दों की कमी होने की स्थिति को दर्शाता है। यह मुहावरा तब इस्तेमाल होता है जब कोई व्यक्ति आश्चर्य, डर, संकोच या उत्तर की कमी के कारण बोलने में असमर्थ हो जाता है।

अर्थ: “बोलती बंद हो जाना” का अर्थ है किसी कारणवश व्यक्ति का मौन हो जाना। यह उस स्थिति को व्यक्त करता है जब व्यक्ति के पास बोलने के लिए शब्द नहीं होते या वह बोलने में असमर्थ महसूस करता है।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग अक्सर तब किया जाता है जब किसी को किसी बात का जवाब देने में कठिनाई होती है या जब व्यक्ति किसी परिस्थिति या टिप्पणी से अचंभित हो जाता है।

उदाहरण:

-> जब नियांत ने अपनी कक्षा में सबसे उच्च अंक प्राप्त किए, तो उसके मित्र की बोलती बंद हो गई।

-> जब अनीता ने अपने बॉस को अपनी परियोजना के बारे में बताया, तो बॉस की बोलती बंद हो गई।

निष्कर्ष: “बोलती बंद हो जाना” मुहावरा हमारी भाषा में उस स्थिति को व्यक्त करता है जब हम शब्दों के अभाव में या किसी आश्चर्यजनक परिस्थिति में चुप हो जाते हैं। यह मुहावरा हमें बताता है कि कभी-कभी शब्दों से ज्यादा मौन की भी अपनी एक गहरी और प्रभावी भाषा होती है। यह अक्सर उन स्थितियों में प्रयोग किया जाता है जहाँ शब्द अप्रभावी या अनुपयुक्त होते हैं।

बोलती बंद हो जाना मुहावरा पर कहानी:

एक बार की बात है, अमन नाम का एक लड़का अपने गांव का सबसे बड़ा बदमाश माना जाता था। वह हमेशा अपनी चालाकी और बहादुरी की बातें करता रहता था और अक्सर अन्य बच्चों को चिढ़ाता था।

एक दिन गांव में एक प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। प्रतियोगिता का विषय था – ‘कौन बनेगा गांव का सबसे बहादुर बालक?’ अमन ने बड़े गर्व से इस प्रतियोगिता में भाग लिया।

प्रतियोगिता के दिन, एक-एक करके बच्चों ने अपनी बहादुरी दिखाई। अमन का नंबर आने पर उसने बड़ी बहादुरी से कहा, “मैं किसी से नहीं डरता, मैं अकेला ही काफी हूँ।”

तभी आयोजकों ने एक छोटा सा परीक्षण रखा। उन्होंने एक छोटे से बक्से को खोला, जिसमें एक छोटा सा चूहा था। चूहे को देखते ही अमन की बोलती बंद हो गई और वह डर के मारे पीछे हट गया। उसका यह रूप देखकर सभी गांववाले हैरान थे।

अमन को तब समझ में आया कि केवल शब्दों से ही बहादुरी नहीं होती। उस दिन के बाद, अमन ने कभी भी खुद को बड़ा बहादुर नहीं बताया और वह विनम्रता से पेश आने लगा।

इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि कई बार वास्तविकता हमारे शब्दों और दावों के विपरीत होती है। “बोलती बंद हो जाना” मुहावरा हमें यह बताता है कि कभी-कभी परिस्थितियाँ हमें निरुत्तर कर देती हैं और हमारे अहंकार को चुप करा देती हैं।

शायरी:

चले थे बहादुरी का डंका बजाने, अर्जुन थे नाम,

पर चूहे ने जब सामना किया, हुई बोलती तमाम।

दिखावे की बहादुरी में, कितना भी दम हो,

जब हकीकत से सामना हो, खो जाता है रोशनी का काम।

अर्जुन की ये कहानी, बयां करती है एक सच्चाई,

शब्दों की बहादुरी और हकीकत में, बड़ी दूरी है भाई।

गर्व से चलते थे जो, उनकी बोलती हुई बंद,

जीवन की इस दौड़ में, सबक बना यह अनुभव का चंद।

जब भी अहंकार में बोलो, याद रखना यह किस्सा,

जब हकीकत आँखों के सामने आए, बोलती बंद हो जाती है जल्दी से बिना किसी फिस्सा।

 

बोलती बंद हो जाना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of बोलती बंद हो जाना – Bolti band ho jana Idiom:

Introduction: “बोलती बंद हो जाना” is a popular Hindi idiom that denotes a situation where a person becomes speechless or runs out of words. This phrase is used when someone is unable to speak due to surprise, fear, hesitation, or lack of an answer.

Meaning: The meaning of “बोलती बंद हो जाना” is to become silent due to some reason. It represents a situation where a person has no words to speak or feels incapable of speaking.

Usage: This idiom is often used when someone finds it difficult to respond to something or is astonished by a situation or comment.

Example:

-> When Niyant achieved the highest marks in his class, his friend was left speechless.

-> When Anita explained her project to her boss, he was left speechless.

Conclusion: The idiom “बोलती बंद हो जाना” articulates a situation in our language where we become silent either due to a lack of words or an astonishing circumstance. This phrase tells us that sometimes silence has its own deep and impactful language, which is often used in situations where words are ineffective or inappropriate.

Story of ‌‌Bolti band ho jana Idiom in English:

Once there was a boy named Aman, who was considered the biggest troublemaker of his village. He always boasted about his cunning and bravery and often teased other children.

One day, a competition was organized in the village. The theme was – ‘Who will be the bravest boy of the village?’ Aman participated in the competition with great pride.

On the day of the competition, one by one, the children showcased their bravery. When it was Aman’s turn, he boldly proclaimed, “I am not afraid of anyone, I am enough on my own.”

Then the organizers set up a small test. They opened a small box, which contained a little mouse. As soon as he saw the mouse, Aman was struck dumb with fear and retreated. Everyone in the village was surprised to see this side of Aman.

It was then that Aman realized that bravery is not just in words. After that day, Aman never boasted about being brave and started to behave more humbly.

This story teaches us that sometimes reality is contrary to our words and claims. The idiom “बोलती बंद हो जाना” tells us that sometimes circumstances render us speechless and silence our ego.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।