Budhimaan

Home » Kahavaten » अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ, अर्थ, प्रयोग(Achchi mati jo chaho budhe puchan jao)

अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ, अर्थ, प्रयोग(Achchi mati jo chaho budhe puchan jao)

“अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ” एक प्राचीन भारतीय कहावत है, जो हमें जीवन के महत्वपूर्ण संदेश देती है।

परिचय: यह कहावत हमें अनुभवी और बुजुर्ग लोगों से सीखने की महत्वपूर्णता को बताती है। यह दर्शाती है कि ज्ञान और समझदारी के लिए बुजुर्गों का मार्गदर्शन अमूल्य होता है।

अर्थ: “अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ” का अर्थ है कि यदि आप अच्छी समझ या सलाह चाहते हैं, तो आपको बुजुर्गों से पूछना चाहिए। उनके अनुभव और जीवन की समझ हमें सही दिशा दिखा सकते हैं।

उपयोग: इस कहावत का इस्तेमाल तब किया जाता है जब जीवन के किसी महत्वपूर्ण निर्णय या समस्या का समाधान खोजने में बुजुर्गों की सलाह की आवश्यकता होती है।

उदाहरण:

-> मान लीजिए, एक युवक को अपने करियर के चुनाव में कठिनाई हो रही है। वह अपने दादाजी से सलाह लेता है, जिनका जीवन का लंबा अनुभव होता है। दादाजी की सलाह उसे सही दिशा में ले जाती है।

समापन: इस कहावत से हमें सिखने को मिलता है कि बुजुर्गों के अनुभव और ज्ञान से हमें बहुत कुछ सीखने को मिल सकता है। उनकी सलाह हमें जीवन के कठिन समय में सही मार्गदर्शन प्रदान कर सकती है।

Hindi Muhavare Quiz

अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ कहावत पर कहानी:

एक छोटे गाँव में अभय नामक एक युवक रहता था। अभय बहुत मेहनती और लगनशील था, लेकिन उसे अपने करियर के भविष्य को लेकर बहुत चिंता थी। वह अक्सर अपने दोस्तों से सलाह मांगता, लेकिन उनकी सलाह से वह संतुष्ट नहीं होता।

एक दिन गाँव के एक बुजुर्ग ने उसे देखा और उसकी चिंता का कारण पूछा। अभय ने अपनी समस्या बताई। बुजुर्ग ने मुस्कुराते हुए कहा, “बेटा, अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ। हमारे अनुभव से तुम्हें सही दिशा मिल सकती है।”

अभय ने बुजुर्ग की बात मानी और उनसे सलाह ली। बुजुर्ग ने उसे जीवन के अनुभवों से सीखे गए सबक साझा किए, जिससे अभय को अपने करियर के बारे में सही और स्थिर निर्णय लेने में मदद मिली।

इस अनुभव से अभय को समझ में आया कि बुजुर्गों की सलाह में कितनी महत्वपूर्णता होती है। उनका जीवन का अनुभव और ज्ञान युवा पीढ़ी के लिए एक महत्वपूर्ण मार्गदर्शन का स्रोत होता है।

इस कहानी से हमें सिखने को मिलता है कि “अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ” – यानी जीवन के महत्वपूर्ण निर्णयों में बुजुर्गों की सलाह हमेशा महत्वपूर्ण होती है, और हमें उनके अनुभव से सीखना चाहिए।

शायरी:

ज्ञान की बातें जो चाहो, बूढ़ों से ही पूछो यारों,
उनकी बातों में छुपा है, जीवन का सारा सार।

अनुभव की वह गठरी, जो बूढ़े लेकर चलते हैं,
उसमें हर सवाल का जवाब, वो पलकों में पलते हैं।

जिंदगी की राहों में, जब भी उलझनें आती हैं,
बुजुर्गों की बातें ही, उन्हें सुलझाने आती हैं।

उनकी एक मुस्कान में, छुपे होते हैं सबक अनेक,
उनकी हर एक नजर में, दिखती है जिंदगी की टेक।

“अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ”, यही है सीख,
बुजुर्गों की सोच में मिलती, हर मुश्किल की रीत।

 

अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।


Hindi to English Translation of अच्छी मति जो चाहो बूढ़े पूछन जाओ – Achchi mati jo chaho budhe puchan jao Proverb:

“Achchi mati jo chaho budhe puchan jao” is an ancient Indian proverb that imparts an important life lesson.

Introduction: This proverb emphasizes the importance of learning from experienced and elderly people. It illustrates that the guidance of the elderly is invaluable for wisdom and understanding.

Meaning: “Achchi mati jo chaho budhe puchan jao” means that if you want good understanding or advice, you should ask the elderly. Their experience and understanding of life can guide us in the right direction.

Usage: This proverb is used when seeking a solution to an important decision or problem in life and requiring the advice of the elderly.

Examples:

-> For instance, a young person is struggling with choosing a career. He seeks advice from his grandfather, who has a wealth of life experience. The grandfather’s advice guides him in the right direction.

Conclusion: This proverb teaches us that we can learn a lot from the experiences and knowledge of the elderly. Their advice can provide us with the right guidance during difficult times in life.

Story of Achchi mati jo chaho budhe puchan jao Proverb in English:

In a small village, there lived a young man named Abhay. Abhay was hardworking and diligent, but he was very anxious about his future career. He often sought advice from his friends, but he was never satisfied with their suggestions.

One day, an elderly man in the village noticed him and asked about his worries. Abhay shared his problem. The elderly man smiled and said, “Son, if you want good wisdom, go ask the elders. Our experiences can provide you with the right direction.”

Abhay heeded the elderly man’s advice and sought his counsel. The elder shared lessons learned from his life experiences, which helped Abhay make a sound and steady decision about his career.

From this experience, Abhay realized the importance of the advice given by elders. Their life experiences and knowledge are a valuable source of guidance for the younger generation.

This story teaches us that “Achchi mati jo chaho budhe puchan jao” – meaning the advice of elders is always important in making significant life decisions, and we should learn from their experiences.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly.

FAQs:

बूढ़े पूछने का क्या मतलब है?

इस कहावत में ‘बूढ़े पूछना’ संदेश है कि अनुभवी लोगों से सीखना और उनकी बुद्धिमति से लाभ उठाना चाहिए।

क्या इस कहावत में सच्चाई है?

हाँ, इस कहावत में सच्चाई है क्योंकि जीवन में अधिक अनुभव रखने वाले व्यक्तियों से सीखना हमें सही मार्ग पर ले जाता है।

क्या यह कहावत केवल बूढ़े लोगों के लिए है?

नहीं, यह कहावत सभी आयु समूहों के लिए है, क्योंकि सबको अनुभव से सीखने का अवसर होता है।

क्या सभी अच्छी मति से संबंधित होती है?

नहीं, यह कहावत यह बताती है कि हमें उन लोगों से सीखना चाहिए जो बुद्धिमान और अनुभवशील हैं।

क्या यह कहावत व्यक्तिगत और सामाजिक सफलता से संबंधित है?

हाँ, यह कहावत व्यक्तिगत और सामाजिक सफलता में मार्गदर्शन करने के लिए महत्वपूर्ण है।

हिंदी कहावतों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।