Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » आंखों के आगे अंधेरा छाना अर्थ, प्रयोग (Aankhon ke aage andhera chhana)

आंखों के आगे अंधेरा छाना अर्थ, प्रयोग (Aankhon ke aage andhera chhana)

परिचय: “आंखों के आगे अंधेरा छाना” एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो अक्सर अचानक आई असहज स्थिति या भावनाओं को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यह मुहावरा उस स्थिति का वर्णन करता है जब किसी कारणवश व्यक्ति को अचानक से चक्कर आ जाए या उसे लगे कि उसके आंखों के सामने अंधेरा छा गया है।

अर्थ: इस मुहावरे का अर्थ है एकाएक असहज महसूस करना या ऐसी स्थिति जहां व्यक्ति अपने आस-पास का स्पष्ट रूप से अनुभव नहीं कर पाता। यह अक्सर शारीरिक या मानसिक तनाव, अचानक आई बुरी खबर या अनपेक्षित घटना के कारण होता है।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग विभिन्न स्थितियों में किया जा सकता है, जैसे:

शारीरिक तनाव: जब किसी को अत्यधिक थकान या चक्कर आने लगे।

मानसिक आघात: किसी दुःखद या चौंकाने वाली खबर से व्यक्ति का संतुलन बिगड़ जाए।

अनपेक्षित घटना: जब कुछ अप्रत्याशित हो जाए और व्यक्ति स्तब्ध रह जाए।

उदाहरण:

-> जब अभय को पता चला कि उसका व्यापार घाटे में चला गया है, तो उसके आंखों के आगे अंधेरा छा गया।

-> अनीता की जब अचानक तबीयत बिगड़ी, तो उसे लगा कि आंखों के आगे अंधेरा छा रहा है।

निष्कर्ष: मुहावरा “आंखों के आगे अंधेरा छाना” हमारी भाषा की उस विशेषता को दर्शाता है जो शाब्दिक अभिव्यक्ति से परे जाकर भावनाओं और अनुभवों को महसूस कराती है। यह मुहावरा हमें याद दिलाता है कि कैसे कुछ घटनाएं हमारे जीवन में अचानक आकर हमें विचलित कर सकती हैं और हमारी भावनाओं पर गहरा प्रभाव डाल सकती हैं। इस मुहावरे का प्रयोग हिंदी भाषा की समृद्धि और अभिव्यक्ति की विविधता को उजागर करता है।

Hindi Muhavare Quiz

आंखों के आगे अंधेरा छाना मुहावरा पर कहानी:

एक छोटे से गाँव में विकास नामक एक युवक रहता था। वह अपने परिवार के साथ खुशहाल जीवन जी रहा था। विकास एक साधारण और हंसमुख इंसान था, जो अपनी छोटी सी दुकान में काम करता था।

एक दिन विकास को एक चिट्ठी मिली, जिसमें लिखा था कि उसे बैंक से एक बड़ी रकम चुकानी होगी। यह पढ़ते ही विकास के आंखों के आगे अंधेरा छा गया। उसे यकीन नहीं हो रहा था कि यह कैसे संभव है।

विकास के मन में तरह-तरह के विचार आने लगे। उसकी दुकान की आमदनी इतनी नहीं थी कि वह इतनी बड़ी रकम चुका पाए। वह सोचने लगा कि अब उसका परिवार कैसे चलेगा। उसे लगा जैसे उसकी दुनिया ही उलट-पुलट हो गई हो।

विकास ने अपने आप को संभाला और अपने मित्रों और परिवार की मदद से इस समस्या का समाधान ढूंढने का निर्णय लिया। उसने बैंक से संपर्क किया और अपनी स्थिति समझाई। सौभाग्य से, बैंक ने उसकी स्थिति को समझा और उसे कुछ समय और दिया।

इस घटना ने विकास को सिखाया कि जीवन में कभी-कभी ऐसी परिस्थितियाँ आती हैं जहाँ आंखों के आगे अंधेरा छा जाता है, परंतु हमें हार नहीं माननी चाहिए। उसने समझा कि कठिन समय में धैर्य और साहस के साथ समस्या का सामना करना ही सबसे बड़ी वीरता है। उसकी कहानी ने उसके गाँव वालों को भी प्रेरित किया कि जब भी जीवन में कठिनाइयाँ आएँ, तो उनका सामना करने के लिए हिम्मत और आत्मविश्वास जरूरी है। इस प्रकार, “आंखों के आगे अंधेरा छाना” मुहावरे का सार्थक अर्थ विकास के अनुभव से स्पष्ट होता है।

शायरी:

जब जिंदगी ने करवट बदली, आंखों के आगे अंधेरा छा गया,

हर ख्वाब, हर आस, हर मंजर, धुँधला सा नजर आ गया।

दुनिया की इस भीड़ में, खुद को अकेला पाया,

जैसे हर रास्ता, हर मोड़, मुझसे खफा हो गया।

आंखों के सामने जब अंधेरा घिर आया,

लगा जैसे हर सपना, हर उम्मीद, टूट कर बिखर गया।

पर हौसलों की उड़ान में, जब उम्मीदों का दीप जलाया,

अंधेरे को चीर, नई सुबह का रास्ता पाया।

जीवन की इस कश्मकश में, जब भी अंधेरा छा जाए,

याद रखना, हर रात के बाद, नया सवेरा आये।

इन अंधेरों से लड़ने का, हर दिल में जज्बा होता है,

जीवन का हर पल, एक नया सबक सिखाता है।

 

आंखों के आगे अंधेरा छाना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of आंखों के आगे अंधेरा छाना – Aankhon ke aage andhera chhana Idiom:

Introduction: “आंखों के आगे अंधेरा छाना” is a prevalent Hindi idiom often used to express sudden discomfort or overwhelming emotions. This phrase describes a situation where a person suddenly feels dizzy or experiences a blackout.

Meaning: The meaning of this idiom is to suddenly feel uncomfortable or to be in a situation where one cannot clearly perceive their surroundings. It often occurs due to physical or mental stress, receiving bad news suddenly, or an unexpected event.

Usage: This idiom can be used in various situations, such as:

Physical stress: When someone feels extremely tired or dizzy.

Mental shock: When a person is destabilized by sad or shocking news.

Unexpected events: When something unforeseen happens and the person is stunned.

Example:

-> When Abhay learned that his business was running at a loss, he felt a blackout coming on.

-> When Anita suddenly fell ill, she felt as if she was experiencing a blackout.

Conclusion: The idiom “आंखों के आगे अंधेरा छाना” showcases the unique aspect of our language, which goes beyond literal expression to evoke feelings and experiences. This phrase reminds us of how certain events can suddenly enter our lives, disturb us, and profoundly impact our emotions. The use of this idiom highlights the richness and diversity of expression in the Hindi language.

Story of ‌‌Aankhon ke aage andhera chhana Idiom in English:

In a small village lived a young man named Vikas. He was leading a happy life with his family. Vikas was an ordinary and cheerful person who worked in his small shop.

One day, Vikas received a letter informing him that he had to pay a large sum of money to the bank. As he read this, he felt a sudden blackout. He couldn’t believe how this was possible.

Various thoughts began to flood Vikas’s mind. The income from his shop was not enough to pay such a large amount. He started worrying about how his family would survive now. It felt as if his world had turned upside down.

Vikas gathered himself and decided to find a solution to this problem with the help of his friends and family. He contacted the bank and explained his situation. Fortunately, the bank understood his predicament and gave him some more time.

This incident taught Vikas that life sometimes brings situations where everything seems dark, but one should not give up. He learned that facing problems with patience and courage during tough times is the true bravery. His story inspired the villagers, teaching them the importance of courage and confidence in facing life’s challenges. Thus, the meaningful essence of the idiom “आंखों के आगे अंधेरा छाना” becomes clear through Vikas’s experience.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

FAQs:

इस मुहावरे का इतिहास क्या है?

इस मुहावरे का इतिहास विभिन्न साहित्यिक और भाषाई परंपराओं में मिलता है, लेकिन इसकी पुष्टि करने के लिए कोई निश्चित इतिहास नहीं है।

यह मुहावरा किस प्रकार से संबंधित है?

यह मुहावरा आंखों और अंधेरे के मध्य की अन्योन्यता और अंधकार के भाव को संदर्भित करता है, जिसे किसी चीज को समझने की कठिनाई के रूप में देखा जाता है।

क्या है मुहावरा “आंखों के आगे अंधेरा छाना” का अर्थ?

यह मुहावरा उस स्थिति को व्यक्त करता है जब कोई व्यक्ति किसी चीज को समझने में असमर्थ हो जाता है या उसके लिए अज्ञानी रहता है।

इस मुहावरे का उपयोग किस प्रकार से किया जाता है?

यह मुहावरा सामान्यत: उस समय का वर्णन करने के लिए किया जाता है जब कोई व्यक्ति किसी स्थिति में असमर्थ हो जाता है या समझ नहीं पाता है।

क्या इस मुहावरे का कोई वास्तविक आधार है?

नहीं, यह मुहावरा केवल भाषा की सुंदरता और भाषा के अभिव्यक्ति के लिए प्रयोग किया जाता है।

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।