Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » ताक पर रख देना अर्थ, प्रयोग(Taak par rakh dena)

ताक पर रख देना अर्थ, प्रयोग(Taak par rakh dena)

परिचय: “ताक पर रख देना” एक लोकप्रिय हिंदी मुहावरा है जिसका प्रयोग अक्सर भाषा में किया जाता है। यह मुहावरा अनेक परिस्थितियों में उपयोगी होता है और इसका अर्थ भी काफी व्यापक है।

अर्थ: “ताक पर रख देना” का शाब्दिक अर्थ है किसी चीज़ को ऊंची जगह पर रख देना। लेकिन मुहावरे के रूप में इसका उपयोग किसी चीज़, विचार, या योजना को नजरअंदाज करने या उसे महत्व न देने के संदर्भ में किया जाता है।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग तब किया जाता है जब किसी को कोई बात या मामला अहमियत न देने की बात करनी हो। यह अक्सर उन परिस्थितियों में इस्तेमाल होता है जब किसी व्यक्ति ने किसी चीज़ को उपेक्षित कर दिया हो या जानबूझकर उसे महत्व न दिया हो।

उदाहरण:

-> जब लक्ष्मी ने अपनी मां की सलाह को ताक पर रख दिया, तो उसे बाद में पछताना पड़ा।

-> व्यापार में सफलता के लिए अनुशासन जरूरी है, लेकिन अभय ने इसे ताक पर रख दिया।

निष्कर्ष: “ताक पर रख देना” मुहावरा हिंदी भाषा की समृद्धि को दर्शाता है। यह मुहावरा न केवल भाषा को रोचक बनाता है बल्कि भावनाओं और स्थितियों को अधिक प्रभावी ढंग से व्यक्त करने में भी सहायक है। इसका प्रयोग विभिन्न संदर्भों में किया जा सकता है, जो इसे एक बहुमुखी और आकर्षक मुहावरा बनाता है।

Hindi Muhavare Quiz

ताक पर रख देना मुहावरा पर कहानी:

एक छोटे से गांव में नियांत नाम का एक युवा लड़का रहता था। नियांत को क्रिकेट खेलने का बहुत शौक था और उसका सपना था कि वह एक दिन राष्ट्रीय टीम के लिए खेले। हालांकि, उसकी यह आदत थी कि वह अपने कोच की सलाह को हमेशा ताक पर रख देता था।

नियांत के कोच ने उसे समझाया कि सिर्फ प्रतिभा ही काफी नहीं होती, अनुशासन और कठिन परिश्रम भी जरूरी है। लेकिन नियांत ने उनकी बात को कोई महत्व नहीं दिया और सोचा कि उसकी प्रतिभा ही उसे सफल बना देगी।

एक दिन नियांत को जिला स्तर की टीम में खेलने का मौका मिला। वह बहुत उत्साहित था, लेकिन उसने अपनी ट्रेनिंग को हल्के में लिया। मैच के दिन नियांत ने बहुत खराब प्रदर्शन किया और उसकी टीम हार गई।

नियांत को तब एहसास हुआ कि उसने अपने कोच की सलाह को ताक पर रख दिया था। उसने महसूस किया कि सिर्फ प्रतिभा ही काफी नहीं होती; अनुशासन, समर्पण, और मेहनत भी उतनी ही महत्वपूर्ण हैं।

नियांत ने अपनी गलती से सीख ली और फिर से कठिन परिश्रम करना शुरू किया। उसने अपने कोच की सलाह को महत्व देना शुरू कर दिया और धीरे-धीरे उसका प्रदर्शन सुधरने लगा। इस कहानी से यह सीख मिलती है कि किसी भी सफलता के लिए अनुशासन और मेहनत अत्यंत आवश्यक हैं और इन्हें कभी भी ताक पर नहीं रखना चाहिए।

शायरी:

उम्मीदों के दीप जलाकर रखे थे मैंने,

तेरी यादों को ताक पर सजाकर रखे थे मैंने।

तूने देखा नहीं कभी उन ख्वाबों की तरफ,

जो तेरे नाम कर दुनिया से छुपाकर रखे थे मैंने।

अरमानों की इस दुनिया में, हर ख्वाहिश पे दम निकले,

जिन्हें समझा था अनमोल, वो ख्वाब ताक पे रख दिए।

इस दिल की गहराइयों में, गम की स्याही से लिखा,

जो दर्द थे मेरे, उन्हें लफ्जों में ढाल के रख दिए।

बिखरे हुए लम्हों को संभाला था जिनको,

उन्हें तेरी यादों की ताक पर सजाकर रखा था।

जिंदगी के सफर में, हर मोड़ पे तेरा इंतजार किया,

तेरी खामोशी को अपनी सदाओं में बसाकर रखा था।

हर एक लफ्ज में तेरी याद का असर था,

जिन्हें तेरे नाम लिख, दिल की ताक पे रख दिया।

जो भी गुजरा, वो वक्त की बात थी,

उन यादों को हमने, आंसुओं की किताब में रख दिया।

 

ताक पर रख देना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of ताक पर रख देना – Taak par rakh dena Idiom:

Introduction: “ताक पर रख देना” (taak par rakh dena) is a popular Hindi idiom often used in language. This idiom is useful in various situations and has a broad meaning.

Meaning: Literally, “ताक पर रख देना” means to place something on a high shelf. However, as an idiom, it is used in the context of ignoring or not giving importance to something, an idea, or a plan.

Usage: This idiom is used when someone wants to express the act of not giving importance to a matter or issue. It is often used in situations where a person has neglected something or deliberately not given it importance.

Example:

-> When Lakshmi ignored her mother’s advice, she regretted it later.

-> Discipline is essential for success in business, but Abhay neglected it.

Conclusion: The idiom “ताक पर रख देना” showcases the richness of the Hindi language. Not only does it make the language interesting, but it also helps in expressing emotions and situations more effectively. Its usage in various contexts makes it a versatile and attractive idiom.

Story of ‌‌Taak par rakh dena Idiom in English:

In a small village lived a young boy named Niyant. Niyant was very fond of playing cricket and dreamed of playing for the national team one day. However, he had a habit of always ignoring his coach’s advice.

Niyant’s coach explained to him that talent alone was not enough; discipline and hard work were also essential. But Niyant did not give importance to his words and thought that his talent alone would lead him to success.

One day, Niyant got the opportunity to play for the district-level team. He was very excited, but he took his training lightly. On the day of the match, Niyant performed poorly, and his team lost.

It was then that Niyant realized he had ignored his coach’s advice. He understood that talent alone was not enough; discipline, dedication, and hard work were equally important.

Niyant learned from his mistake and started to work hard again. He began to value his coach’s advice and gradually, his performance improved. This story teaches that discipline and hard work are extremely necessary for any success and should never be overlooked.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

FAQs:

क्या इस मुहावरे का कोई विचारात्मक अर्थ है?

हां, यह मुहावरा भावनात्मक जिम्मेदारियों और संवेदनशीलता का संकेत भी कर सकता है।

इस मुहावरे का उपयोग किस संदर्भ में होता है?

यह मुहावरा जिम्मेदारी या संवेदनशीलता के बारे में बात करते समय उपयोग किया जाता है।

क्या है मुहावरा “ताक पर रख देना” का अर्थ?

“ताक पर रख देना” का अर्थ होता है किसी को जिम्मेदारी देना या किसी के ऊपर नजर रखना।

क्या यह मुहावरा केवल हिंदी में ही है?

नहीं, इस मुहावरे का अनुवाद और समकालीन रूप अन्य भाषाओं में भी हो सकता है।

क्या “ताक पर रख देना” का उपयोग आजकल किया जाता है?

हां, यह मुहावरा आजकल भी सामान्य बातचीत में उपयोग किया जाता है।

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।