Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » पैसा गाँठ का, यार साथ का अर्थ, प्रयोग (Paisa ganth ka, Yaar saath ka)

पैसा गाँठ का, यार साथ का अर्थ, प्रयोग (Paisa ganth ka, Yaar saath ka)

परिचय: हिंदी भाषा में मुहावरे समाज और मानव संबंधों की विविधता को दर्शाते हैं। “पैसा गाँठ का, यार साथ का” एक ऐसा ही मुहावरा है जो धन और मित्रता के महत्व को बताता है।

अर्थ: इस मुहावरे का अर्थ है कि पैसा तो बचत में रहता है, लेकिन असली साथी तो मित्र होते हैं। यह बताता है कि वित्तीय संसाधनों की तुलना में सामाजिक संबंध और मित्रता अधिक महत्वपूर्ण होते हैं।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग तब किया जाता है जब किसी को यह समझाना हो कि धन से अधिक महत्वपूर्ण व्यक्तिगत संबंध होते हैं।

उदाहरण:

-> “अभय ने अपनी मुश्किल समय में दोस्तों की मदद से सीखा कि पैसा गाँठ का, यार साथ का।”

-> “मुझे अपनी जिंदगी में सच्चे दोस्तों का महत्व समझ आया है, पैसा गाँठ का, यार साथ का।”

निष्कर्ष: “पैसा गाँठ का, यार साथ का” मुहावरा हमें यह बताता है कि जीवन में धन से अधिक महत्वपूर्ण हैं हमारे व्यक्तिगत संबंध और मित्रता। यह मुहावरा हमें सिखाता है कि जीवन में सच्चे दोस्त और विश्वासी संबंध ही असली संपत्ति हैं।

पैसा गाँठ का, यार साथ का मुहावरा पर कहानी:

एक छोटे से गांव में अमन नाम का एक युवक रहता था। अमन के पास बहुत सारा धन था, लेकिन उसके सच्चे दोस्त बहुत कम थे। वह हमेशा अपने पैसे पर गर्व महसूस करता और अक्सर अपने धन का दिखावा करता।

एक दिन गांव में बाढ़ आ गई, और अमन का सारा धन बह गया। वह बेसहारा और अकेला रह गया। उस समय, उसके गांव के लोग, जिन्हें उसने कभी ध्यान नहीं दिया था, उसकी मदद के लिए आगे आए। उन्होंने उसे खाना दिया, आश्रय दिया और उसकी देखभाल की।

इस घटना ने अमन को एक महत्वपूर्ण सबक सिखाया। उसे समझ आया कि “पैसा गाँठ का, यार साथ का।” उसे एहसास हुआ कि उसकी असली संपत्ति उसके धन में नहीं, बल्कि उसके उन दोस्तों में थी जो उसके साथ मुश्किल समय में खड़े थे।

अमन ने अपनी सोच बदली और अपने गांववालों के प्रति दयालु बन गया। उसने समझा कि जीवन में धन से ज्यादा कीमती होते हैं सच्चे दोस्त और अच्छे संबंध। उसकी यह कहानी हमें यह सिखाती है कि असली संपत्ति पैसे में नहीं, बल्कि सच्चे दोस्तों और संबंधों में होती है।

शायरी:

दौलत की चमक में अक्सर, दिल खो जाता है,

“पैसा गाँठ का, यार साथ का”, यह जीवन सिखाता है।

जेब भरी हो चाहे कितनी, दोस्ती में जो बात है,

वही तो असली खजाना है, बाकी सब बर्बाद है।

धन की दौड़ में जीवन, कहाँ खो जाता है,

पैसों का क्या है, दोस्ती में ही जीना आता है।

“पैसा गाँठ का, यार साथ का”, इस सच्चाई को पहचानो,

जिंदगी में सच्चे दोस्त ही, असली सम्मान है जानो।

इसलिए जीवन की राह में, दोस्ती को दिल से लगाना,

“पैसा गाँठ का, यार साथ का”, इसे हमेशा याद रखना।

 

पैसा गाँठ का, यार साथ का शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of पैसा गाँठ का, यार साथ का – Paisa ganth ka, Yaar saath ka Idiom:

Introduction: In the Hindi language, idioms reflect the diversity of society and human relationships. “पैसा गाँठ का, यार साथ का” is one such idiom that highlights the importance of wealth and friendship.

Meaning: The meaning of this idiom is that while money is saved, real companions are friends. It indicates that social relationships and friendships are more important than financial resources.

Usage: This idiom is used when it is necessary to explain that personal relationships are more important than money.

Example:

-> “Abhay learned the importance of friends in his difficult times, realizing that money is saved, but friends are companions.”

-> “I have realized the importance of true friends in my life, money is saved, but friends are companions.”

Conclusion: The idiom “पैसा गाँठ का, यार साथ का” tells us that in life, our personal relationships and friendships are more important than money. This idiom teaches us that true friends and trustworthy relationships are the real assets in life.

Story of ‌‌Paisa ganth ka, Yaar saath ka Idiom in English:

In a small village lived a young man named Aman. Aman was wealthy, but he had very few true friends. He always took pride in his wealth and often showed it off.

One day, a flood hit the village, and Aman lost all his money. He was left helpless and alone. At that time, the people of his village, whom he had never paid much attention to, came forward to help him. They provided him with food, shelter, and care.

This incident taught Aman an important lesson. He realized the meaning of “money is saved, but friends are companions.” He understood that his real wealth was not in his money but in those friends who stood by him during tough times.

Aman changed his perspective and became kinder to his fellow villagers. He learned that in life, true friends and good relationships are more valuable than money. His story teaches us that real wealth lies not in money but in true friends and relationships.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।