Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » मौत की कोई तारीख नहीं होती अर्थ, प्रयोग (Maut ki koi tareekh nahi hoti)

मौत की कोई तारीख नहीं होती अर्थ, प्रयोग (Maut ki koi tareekh nahi hoti)

परिचय: “मौत की कोई तारीख नहीं होती” यह मुहावरा जीवन की अनिश्चितता को व्यक्त करता है। यह हमें याद दिलाता है कि मौत का कोई निश्चित समय या घड़ी नहीं होती है, और यह किसी भी क्षण हमारे जीवन में आ सकती है।

अर्थ: इस मुहावरे का सीधा अर्थ है कि मौत अप्रत्याशित होती है और इसे कोई पूर्वानुमान नहीं कर सकता। यह हमें सिखाता है कि जीवन अनमोल है और हमें हर पल को पूरी तरह से जीना चाहिए।

प्रयोग: यह मुहावरा अक्सर उस समय उपयोग किया जाता है जब किसी को जीवन की अनिश्चितता के बारे में याद दिलाना होता है या जब किसी को जीवन का महत्व समझाना होता है।

उदाहरण:

-> जब अखिल अपनी नौकरी में इतना व्यस्त हो गया कि उसने अपने परिवार के साथ समय बिताना छोड़ दिया, तो उसके पिता ने उसे याद दिलाया, “बेटा, मौत की कोई तारीख नहीं होती, अपने प्रियजनों के साथ समय बिताओ।”

-> जब अनीता को लगा कि उसके पास अपने सपनों को पूरा करने के लिए पूरी जिंदगी है, तो उसकी दोस्त ने कहा, “मौत की कोई तारीख नहीं होती, इसलिए आज ही अपने सपनों पर काम करना शुरू कर दो।”

निष्कर्ष: “मौत की कोई तारीख नहीं होती” यह मुहावरा हमें जीवन की अनिश्चितता और इसके मूल्य को समझने का एक महत्वपूर्ण संदेश देता है। यह हमें प्रेरित करता है कि हमें हर क्षण को महत्वपूर्ण मानना चाहिए और अपने प्रियजनों के साथ अच्छे समय की सराहना करनी चाहिए। इसलिए, हमें हमेशा याद रखना चाहिए कि जीवन एक अनमोल उपहार है और हमें इसे पूरी तरह से जीना चाहिए।

मौत की कोई तारीख नहीं होती मुहावरा पर कहानी:

एक बार की बात है, एक छोटे से गाँव में अभय नाम का एक युवक रहता था। अभय बहुत मेहनती और लगनशील था, लेकिन वह हमेशा भविष्य की चिंता में डूबा रहता था। उसका सारा समय काम में ही निकल जाता था, और वह अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताना भूल गया था।

एक दिन, अभय के गाँव में एक साधु आए। साधु ने गाँव वालों को जीवन के महत्व और मौत की अनिश्चितता के बारे में बताया। अभय भी उस भीड़ में था और साधु की बातें सुन रहा था। साधु ने कहा, “मौत की कोई तारीख नहीं होती, इसलिए हमें हर पल को महत्व देना चाहिए।”

अभय को यह बात गहराई से छू गई। उसे एहसास हुआ कि वह अपने जीवन को केवल काम में ही समर्पित कर रहा था और अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताना भूल गया था। अभय ने तय किया कि वह अपने जीवन को बदलेगा।

उस दिन के बाद, अभय ने अपने काम के साथ-साथ अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताना शुरू किया। वह अब जीवन के हर पल को महत्व देने लगा था। अभय को एहसास हुआ कि जीवन में सफलता केवल काम से नहीं आती, बल्कि अपनों के साथ बिताए गए पलों से भी आती है।

समय के साथ, अभय ने न केवल अपने काम में सफलता प्राप्त की, बल्कि उसने अपने परिवार और दोस्तों के साथ खुशियाँ भी साझा कीं। उसे यह समझ में आ गया था कि “मौत की कोई तारीख नहीं होती” और इसलिए हमें हर पल को जीना चाहिए जैसे कि यह हमारा आखिरी हो।

इस कहानी के माध्यम से, हमें जीवन की अनिश्चितता और मौत की अप्रत्याशितता का महत्वपूर्ण सबक मिलता है। यह हमें सिखाता है कि हमें हर क्षण को संजोना चाहिए और अपने प्रियजनों के साथ अच्छे समय की सराहना करनी चाहिए।

शायरी:

मौत की कोई तारीख नहीं होती, ये बात सच्ची है दोस्तों,

जिंदगी के मेले में, हर पल एक नई रोशनी होती है दोस्तों।

जिए जा रहे हैं हम, जैसे कल हमारा नहीं,

हर दिन एक ख्वाब है, और हर रात एक सफर नया।

लम्हों की कदर करो, क्योंकि यहाँ कल किसने देखा है,

मौत से पहले की जिंदगी, एक खुली किताब सी देखा है।

जब तक धड़कनें चलें, इश्क़ में रंग भरो,

मौत से पहले, जिंदगी को जी भर के जी लो।

आओ चलें उस ओर, जहाँ राहें अपनी खोजें,

मौत की कोई तारीख नहीं, फिर क्यों न जीवन को खोजें?

हर दिन एक नया सफर है, हर रात एक नई कहानी,

जिंदगी और मौत के इस खेल में, हर पल है एक नई जवानी।

इस बेफिक्र जहाँ में, आओ ढूँढें वो मोड़,

जहाँ मौत से पहले, हर लम्हा हो जैसे एक नया जन्म।

 

मौत की कोई तारीख नहीं होती शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of मौत की कोई तारीख नहीं होती – Maut ki koi tareekh nahi hoti Idiom:

Introduction: “Maut ki koi tareekh nahi hoti” expresses the uncertainty of life. It reminds us that death has no fixed time or hour, and it can come into our lives at any moment.

Meaning: The direct meaning of this idiom is that death is unpredictable, and no one can forecast it. It teaches us that life is precious, and we should live every moment fully.

Usage: This idiom is often used when someone needs to be reminded about the uncertainty of life or when someone needs to understand the importance of life.

Example:

-> When Akhil became so busy with his job that he stopped spending time with his family, his father reminded him, “Son, death has no date, spend time with your loved ones.”

-> When Anita felt she had her whole life to fulfill her dreams, her friend said, “Death has no date, so start working on your dreams today.”

Conclusion: “Maut ki koi tareekh nahi hoti” is an idiom that gives us a significant message about the uncertainty of life and its value. It motivates us to consider every moment important and to appreciate the good times with our loved ones. Therefore, we must always remember that life is a precious gift, and we should live it fully.

Story of ‌‌Maut ki koi tareekh nahi hoti Idiom in English:

Once upon a time, in a small village, there lived a young man named Abhay. Abhay was very hardworking and dedicated, but he was always drowned in the worries of the future. All his time was spent working, and he had forgotten to spend time with his family and friends.

One day, a sage came to Abhay’s village. The sage spoke to the villagers about the importance of life and the uncertainty of death. Abhay was also in the crowd and was listening to the sage’s words. The sage said, “Death has no date, therefore we should value every moment.”

These words deeply touched Abhay. He realized that he had dedicated his life only to work and had forgotten to spend time with his family and friends. Abhay decided that he would change his life.

From that day on, Abhay started spending time with his family and friends along with his work. He began to value every moment of life. Abhay realized that success in life does not come from work alone, but also from the moments spent with loved ones.

Over time, Abhay not only achieved success in his work, but he also shared happiness with his family and friends. He had understood that “Death has no date” and therefore we should live every moment as if it were our last.

Through this story, we receive an important lesson about the uncertainty of life and the unpredictability of death. It teaches us that we should cherish every moment and appreciate the good times with our loved ones.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।