Budhimaan

घात लगाना अर्थ, प्रयोग(Ghat lagana)

परिचय: “घात लगाना” हिंदी भाषा का एक प्रसिद्ध मुहावरा है, जो अक्सर साहित्य, बोलचाल और विभिन्न संदर्भों में प्रयोग किया जाता है। यह मुहावरा समाज में विभिन्न परिस्थितियों में इसके प्रयोग को दर्शाता है।

अर्थ: “घात लगाना” का शाब्दिक अर्थ होता है किसी के लिए छिपकर या गुप्त रूप से बुराई या हानि पहुँचाने की तैयारी करना। यह मुहावरा किसी के धोखे या प्रतिकूल इरादों को व्यक्त करता है।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग तब किया जाता है जब किसी व्यक्ति या समूह के छिपे हुए या कपटी इरादे होते हैं। यह अक्सर राजनीति, सामाजिक और निजी संबंधों में देखा जा सकता है।

उदाहरण:

-> राजनीतिक दलों ने एक दूसरे के खिलाफ घात लगाकर चुनावी रणनीति बनाई।

-> व्यापारी ने अपने प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ घात लगाया और उसे बाजार से बाहर कर दिया।

निष्कर्ष: “घात लगाना” मुहावरा हमें यह सिखाता है कि जीवन में कई बार लोग छिपे हुए इरादों से काम करते हैं। यह हमें सतर्क और जागरूक रहने की आवश्यकता को दर्शाता है, ताकि हम धोखे और प्रतिकूल परिस्थितियों से बच सकें।

Hindi Muhavare Quiz

घात लगाना मुहावरा पर कहानी:

एक बार की बात है, शांतिपुर नाम के गाँव में दो व्यापारी रहते थे – विनीत और सुधीर। विनीत एक ईमानदार व्यापारी थे, जबकि सुधीर अक्सर चालाकी और धोखाधड़ी से अपना काम करते थे।

एक दिन, सुधीर ने विनीत के खिलाफ एक योजना बनाई। उसने गुप्त रूप से विनीत के उत्पादों में खराबी पैदा करने की योजना बनाई ताकि ग्राहक विनीत की दुकान से दूर रहें और उसके पास आएं। उसने विनीत के गोदाम में घात लगाकर उत्पादों को नुकसान पहुँचाया।

विनीत ने जब अपने उत्पादों की खराबी देखी, तो वे बहुत परेशान हुए। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और जांच शुरू की। जल्द ही, उन्हें सुधीर की योजना का पता चल गया।

विनीत ने ग्राम पंचायत में इस बात की शिकायत की। पंचायत ने सुधीर को बुलाया और उसकी योजना का पर्दाफाश किया। सुधीर को अपने किए की सजा मिली, और उसे गाँव छोड़ना पड़ा।

निष्कर्ष:

इस कहानी से हमें “घात लगाना” मुहावरे का अर्थ समझ में आता है। यह दिखाता है कि कैसे किसी के छिपे हुए बुरे इरादों से दूसरों को हानि पहुंचाई जा सकती है। लेकिन यह भी सिखाता है कि सत्य और ईमानदारी हमेशा झूठ और धोखाधड़ी पर भारी पड़ती है।

शायरी:

छिपकर घात लगाने वालों का हुनर देखिए,
इन अंधेरों में भी अपनी रौशनी बिखेरने का हुनर देखिए।

जिनके इरादे छिपे हुए, उनके चेहरे पर मासूमियत की छाप,
इस जहाँ में सच्चाई की राह पर चलने का जज़्बा रखिए।

जिन्होंने घात लगाई, वो समझते हैं जीत उनकी होगी,
पर हमने तो हर हाल में मुस्कुराने का वादा किया है।

दुनिया की इस भीड़ में, कुछ लोग घात लगाने में माहिर,
हमने तो अपने जख्मों को भी गले लगाने का हुनर सीखा है।

घात लगाने वाले भूल जाते हैं, हर रात की सुबह होती है,
हमने तो हर अंधेरे में भी उम्मीद की लौ जलाए रखी है।

 

घात लगाना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of घात लगाना – Ghat lagana Idiom:

Introduction: “घात लगाना” is a famous idiom in the Hindi language, often used in literature, everyday conversation, and various contexts. This idiom illustrates its usage in different situations in society.

Meaning: The literal meaning of “घात लगाना” is to secretly prepare to cause harm or evil to someone. This idiom expresses deceit or adverse intentions of a person.

Usage: This idiom is used when an individual or a group has hidden or deceitful intentions. It is often seen in politics, social interactions, and personal relationships.

Example:

-> Political parties created an election strategy by setting a trap against each other.

-> A merchant set a trap against his competitor and ousted him from the market.

Conclusion: The idiom “घात लगाना” teaches us that in life, people often operate with hidden intentions. It highlights the need to be vigilant and aware to protect ourselves from deceit and adverse situations.

Story of ‌‌Ghat lagana Idiom in English:

Once upon a time, in a village named Shantipur, there lived two merchants – Vineet and Sudhir. Vineet was an honest merchant, while Sudhir often resorted to cunning and deceit in his dealings.

One day, Sudhir devised a plan against Vineet. He secretly schemed to sabotage Vineet’s products so that customers would stay away from Vineet’s shop and come to his instead. He set a trap in Vineet’s warehouse and damaged the products.

When Vineet noticed the defects in his products, he became very distressed. However, he didn’t give up and started investigating. Soon, he discovered Sudhir’s plan.

Vineet complained to the village council. The council summoned Sudhir and exposed his scheme. Sudhir received punishment for his actions and was forced to leave the village.

Conclusion:

This story helps us understand the meaning of the idiom “घात लगाना” (setting a trap). It shows how one can harm others through hidden malicious intentions. But it also teaches that truth and honesty always prevail over lies and deception.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

FAQs:

क्या घात लगाना केवल भावनात्मक रूप से होता है?

नहीं, घात लगाना केवल भावनात्मक रूप से ही नहीं होता है, बल्कि इसे आर्थिक, सामाजिक और व्यक्तिगत स्तर पर भी देखा जा सकता है।

घात लगाना मुहावरे का उपयोग किस संदर्भ में किया जाता है?

घात लगाना मुहावरा सामान्यत: व्यक्तियों के बीच किसी भावनात्मक, आर्थिक या सामाजिक चरित्र के दोषारोपण के लिए प्रयुक्त किया जाता है।

क्या ‘घात लगाना’ का अर्थ है?

घात लगाना का अर्थ है किसी को किसी चीज से हानि पहुंचाना या किसी को ठीक से नुकसान पहुंचाना।

क्या घात लगाना का उपयोग केवल व्यक्तिगत स्तर पर होता है?

नहीं, घात लगाना का उपयोग व्यक्तिगत, सामाजिक और राजनीतिक स्तर पर भी हो सकता है।

क्या कोई वास्तविक चोट होना जरूरी है घात लगाने के लिए?

नहीं, घात लगाने के लिए वास्तविक चोट होने की आवश्यकता नहीं होती है, यह शारीरिक, मानसिक या आर्थिक रूप में हो सकता है।

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।