Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » घर फूँक तमाशा देखना अर्थ, प्रयोग(Ghar phoonk tamasha dekhna)

घर फूँक तमाशा देखना अर्थ, प्रयोग(Ghar phoonk tamasha dekhna)

परिचय: “घर फूँक तमाशा देखना” मुहावरा उस स्थिति को व्यक्त करता है जब कोई व्यक्ति अपने निजी या आर्थिक नुकसान की चिंता किए बिना किसी गतिविधि में लिप्त होता है। यह मुहावरा अतिशयोक्ति का एक रूप है जो असावधानी और लापरवाही को दर्शाता है।

अर्थ: मुहावरे का शाब्दिक अर्थ है कि कोई अपना घर जला कर उसके दृश्य का आनंद उठा रहा है। लाक्षणिक अर्थ में, यह उस स्थिति को दर्शाता है जब कोई अपने ही नुकसान की परवाह किए बिना, अस्थायी संतुष्टि या मनोरंजन के लिए कुछ करता है।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग तब किया जाता है जब किसी व्यक्ति के कार्यों से उसे खुद को या अपने परिवार को नुकसान पहुँचता है, परंतु वह फिर भी उसे जारी रखता है।

उदाहरण:

-> मुनीश ने अपनी सारी जमा पूंजी जुआ में लगा दी, जैसे ‘घर फूँक तमाशा देखना’।

निष्कर्ष: “घर फूँक तमाशा देखना” मुहावरे से हमें यह सिखने को मिलता है कि अल्पकालिक आनंद या मनोरंजन के लिए अपने दीर्घकालिक हितों को नजरअंदाज करना उचित नहीं है। यह हमें यह भी बताता है कि हमें हमेशा अपने कार्यों के परिणामों के प्रति सचेत रहना चाहिए।

Hindi Muhavare Quiz

घर फूँक तमाशा देखना मुहावरा पर कहानी:

एक समय की बात है, एक छोटे से गाँव में अनुज नामक एक युवक रहता था। अनुज बहुत ही उत्साही और जोशीला था, लेकिन उसकी एक कमजोरी थी – वह अक्सर बिना परिणाम सोचे फैसले ले लेता था।

अनुज को गाँव के मेलों और उत्सवों में जाने का बहुत शौक था। एक दिन, गाँव में एक बड़ा मेला लगा। वहाँ एक जुआघर भी था। अनुज ने सोचा कि थोड़ा जुआ खेलकर वह जल्दी से धनवान बन जाएगा।

उसने अपने घर की सारी बचत जुआ में लगा दी। पहले तो वह कुछ जीता, लेकिन धीरे-धीरे सारा पैसा हार गया। अनुज का परिवार, जो उस पर निर्भर था, आर्थिक संकट में फंस गया।

गाँववाले अनुज की इस हरकत पर हैरान थे। उन्होंने कहा, “अनुज ने तो ‘घर फूँक तमाशा देखने’ वाली बात कर दी।”

इस घटना के बाद अनुज को समझ में आया कि जीवन में बिना सोचे-समझे फैसले लेना कितना खतरनाक हो सकता है। उसने प्रण किया कि आगे से वह अपने निर्णयों में सावधानी बरतेगा और अपने परिवार की भलाई का भी ख्याल रखेगा।

इस कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है कि ‘घर फूँक तमाशा देखना’ जैसी हरकतों से हमारा और हमारे परिवार का बहुत नुकसान हो सकता है, और इसलिए हमें हमेशा दूरदर्शी और विचारवान बनना चाहिए।

शायरी:

घर को फूँक कर तमाशा देखने की आदत थी,

खुद की बर्बादी में भी, मुस्कुराने की आदत थी।

जिंदगी के मेले में, अक्सर यह भूल जाते हैं,

अपने ही हाथों से, खुशियाँ जलाते हैं।

फैसलों की राह में, हर कदम पे बाजी है,

घर जलाकर तमाशा, यही तो जिंदगी की साजिश है।

अपने ही सपनों का, कर दिया आगाज था,

बेखबर थे हम, ये खुद का ही राज था।

घर फूँक कर तमाशा, अब नहीं देखेंगे,

सपनों की उड़ान में, फिर से मेहनत करेंगे।

 

घर फूँक तमाशा देखना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of घर फूँक तमाशा देखना – Ghar phoonk tamasha dekhna Idiom:

Introduction: The idiom “घर फूँक तमाशा देखना” expresses a situation where a person engages in an activity without concern for their personal or financial loss. It is a form of hyperbole that illustrates carelessness and recklessness.

Meaning: The literal meaning of the idiom is that someone is burning down their house and enjoying the spectacle. Figuratively, it represents a situation where someone acts for temporary satisfaction or entertainment without considering the damage to themselves.

Usage: This idiom is used when a person’s actions lead to harm to themselves or their family, yet they continue with those actions.

Example:

-> Munish spent all his savings on gambling, just like ‘burning down his house to watch the spectacle’.

Conclusion: The idiom “घर फूँक तमाशा देखना” teaches us that it is not wise to ignore long-term interests for short-term pleasure or entertainment. It also reminds us to always be aware of the consequences of our actions.

Story of ‌‌Ghar phoonk tamasha dekhna Idiom in English:

Once upon a time, in a small village, there lived a young man named Anuj. Anuj was very enthusiastic and spirited, but he had a weakness – he often made decisions without thinking about the consequences.

Anuj loved attending fairs and festivals in the village. One day, a big fair was organized in the village, which also had a gambling den. Anuj thought he could quickly become wealthy by gambling a little.

He gambled away all the savings of his house. Initially, he won some money, but gradually lost everything. Anuj’s family, which depended on him, fell into financial crisis.

The villagers were astonished at Anuj’s behavior. They said, “Anuj has really ‘burned down his house to watch the spectacle’.”

After this incident, Anuj realized how dangerous it could be to make decisions without thinking in life. He vowed to be more cautious in his decisions and to take care of his family’s well-being.

This story teaches us that actions like ‘burning down one’s house to watch the spectacle’ can cause great harm to us and our families, and therefore, we should always be far-sighted and thoughtful.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

FAQs:

क्या इस मुहावरे का कोई वास्तविक संदर्भ है?

: हाँ, कई बार लोग दूसरों के मुश्किलों और तकलीफों का मजाक उड़ाते हैं बिना उनकी मदद करने के।

क्या इस मुहावरे का उपयोग सामाजिक परिस्थितियों में होता है?

हाँ, इस मुहावरे का उपयोग व्यक्तियों के दुख-दर्द को ठीक से समझने की अभीख्या करने के लिए या उनकी अवस्था का मजाक उड़ाने के लिए किया जा सकता है।

“घर फूँक तमाशा देखना” का मतलब क्या है?

यह मुहावरा उस स्थिति को व्यक्त करता है जब कोई व्यक्ति किसी के दुख और कष्ट का आनंद उठाता है या उसका मजाक उड़ाता है।

क्या इस मुहावरे का उपयोग शिक्षा के क्षेत्र में होता है?

हाँ, कई बार शिक्षा के क्षेत्र में इसे एक अवस्था या घटना की उच्चतम नीति ना बनाने पर आरोपित करने के लिए उपयोग किया जा सकता है।

इस मुहावरे का समर्थन किस प्रकार से किया जा सकता है?

इस मुहावरे का समर्थन व्यक्तियों के नेतृत्व में असंबंधित या उच्च-स्तरीय आदिकारिकता के खिलाफ होने पर किया जा सकता है।

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।