Budhimaan

दिल बैठना अर्थ, प्रयोग (Dil baithna)

“दिल बैठना” एक लोकप्रिय हिंदी मुहावरा है जो अचानक भय या चिंता की स्थिति को व्यक्त करता है। यह उन पलों का वर्णन करता है जब किसी का दिल घबराहट या आशंका के कारण ‘बैठ’ जाता है, अर्थात् वह व्यक्ति अत्यधिक डर या चिंता महसूस करता है।

परिचय: “दिल बैठना” मुहावरा उस स्थिति को दर्शाता है जहां व्यक्ति किसी घटना या परिस्थिति से इतना अधिक घबरा जाता है कि उसे लगता है जैसे उसका दिल ही रुक गया हो। यह मुहावरा भारतीय समाज में आमतौर पर प्रयोग में लाया जाता है।

अर्थ: “दिल बैठना” का शाब्दिक अर्थ है ‘हृदय का कमजोर पड़ जाना’। भावार्थ यह है कि किसी व्यक्ति को अचानक किसी बात का इतना अधिक डर लग जाता है कि उसे लगता है जैसे उसका दिल ही रुक गया हो।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग तब किया जाता है जब किसी व्यक्ति को अचानक बहुत अधिक भय या चिंता का अनुभव होता है। यह उस भावना को दर्शाता है जब किसी के दिल की धड़कन तेज हो जाती है और वह घबराहट या आशंका से भर जाता है।

उदाहरण:

मान लीजिए, कोई व्यक्ति रात के समय अकेले घर लौट रहा हो और अचानक उसे किसी अज्ञात शोर की आवाज सुनाई दे। इससे उसे यह आभास हो कि कोई उसका पीछा कर रहा है। ऐसी स्थिति में कहा जा सकता है कि “उसका दिल बैठ गया।” यह दर्शाता है कि वह व्यक्ति बेहद डर गया है और उसे अत्यधिक चिंता हो रही है।

निष्कर्ष: “दिल बैठना” मुहावरा मानवीय भावनाओं की उस अवस्था को दर्शाता है जहां अचानक आयी भय या चिंता के कारण व्यक्ति का दिल बैठ जाता है। यह मुहावरा हमें यह भी बताता है कि कैसे कभी-कभी परिस्थितियाँ हमारे दिल और मन पर गहरा प्रभाव डाल सकती हैं। इससे हमें यह भी सीखने को मिलता है कि जीवन में अनपेक्षित घटनाएँ और परिस्थितियाँ हमें घबराहट और डर का अनुभव करा सकती हैं, परंतु हमें इन परिस्थितियों का सामना करते हुए अपनी स्थिरता और साहस को बनाए रखना चाहिए। “दिल बैठना” केवल एक क्षणिक भावना होती है, और हमें इसे पार करके आगे बढ़ना चाहिए।

दिल बैठना मुहावरा पर कहानी:

एक बार की बात है, एक छोटे से गाँव में अनुभव नाम का एक युवक रहता था। अनुभव एक साहसी और जोशीला युवक था, लेकिन कभी-कभी वह अचानक आने वाली परिस्थितियों से घबरा जाता था।

एक रात, अनुभव अपने दोस्तों के साथ जंगल के रास्ते से घर लौट रहा था। चाँदनी रात थी, और पेड़ों की छायाएँ रास्ते पर नाच रही थीं। अचानक, उन्होंने झाड़ियों में से कुछ हलचल सुनी। अनुभव के दोस्तों ने सोचा कि शायद वह हवा का झोंका होगा, लेकिन अनुभव को लगा कि कोई उनका पीछा कर रहा है।

अनुभव के दिल की धड़कन तेज हो गई, और उसे लगा जैसे उसका दिल बैठ गया हो। वह घबराहट से ठिठक गया और अपने दोस्तों से कहा, “क्या कोई हमारा पीछा कर रहा है?” उसके दोस्तों ने उसे आश्वासन दिया कि वहाँ कोई नहीं है और वे सब सुरक्षित हैं।

जैसे-जैसे वे आगे बढ़े, अनुभव को समझ आया कि उसका डर बेवजह

था। जो हलचल उसने सुनी थी वह सिर्फ एक छोटे जानवर की थी जो झाड़ियों में छिपा हुआ था। अनुभव ने राहत की सांस ली और मुस्कुराते हुए अपने दोस्तों से कहा, “मुझे लगा था कि मेरा दिल बैठ गया है, पर अब मैं समझ गया हूँ कि यह सिर्फ मेरी कल्पना थी।”

उस रात अनुभव को एक महत्वपूर्ण सबक मिला। उसने सीखा कि कभी-कभी हमारे मन की आशंकाएं वास्तविकता से ज्यादा बड़ी हो जाती हैं और हमें बेवजह का डर महसूस कराती हैं। “दिल बैठना” जैसे मुहावरे हमें यही बताते हैं कि कभी-कभी हमारा डर और घबराहट बिना किसी ठोस कारण के होते हैं, और हमें इन परिस्थितियों में अपने आत्म-नियंत्रण को बनाए रखना चाहिए। अनुभव ने इस अनुभव से यह भी सीखा कि साहस और स्थिरता हमेशा डर पर विजय पाने में मदद करती है।

शायरी:

चांदनी रात में चलते-चलते, जब कोई साया डराए,

दिल बैठ जाए मेरा, हर खामोशी से भय खाए।

हर शोर में एक कहानी, हर सन्नाटे में बात छिपी,

दिल बैठ जाए जब, हर राज़ खुलता है अधूरी सी।

सोचा था जीत लूंगा दुनिया, हर मुश्किल से लड़ जाऊंगा,

दिल बैठ जाता है जब, अपने ही ख्यालों में हार जाऊंगा।

जीवन की राहों में, हर कदम पे अनजाना डर,

दिल बैठता है जब, समझ आता है सब सच है बस बेखबर।

हर डर के पीछे एक सबक, हर घबराहट में एक नया दिन,

दिल बैठने का डर भी, बनता है जीने का हुनर।

 

दिल बैठना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of दिल बैठना – Dil Baithna Idiom:

“Dil Baithna” is a popular Hindi idiom that expresses a state of sudden fear or anxiety. It describes those moments when someone’s heart ‘sinks’ due to panic or apprehension, meaning that the person experiences extreme fear or worry.

Introduction: The idiom “Dil Baithna” depicts a situation where a person becomes so frightened by an event or circumstance that it feels as if their heart has stopped. This idiom is commonly used in Indian society.

Meaning: The literal meaning of “Dil Baithna” is ‘the heart becoming weak’. Figuratively, it means that a person becomes so suddenly scared of something that it feels like their heart has stopped.

Usage: This idiom is used when a person experiences a great deal of fear or anxiety suddenly. It represents the feeling when someone’s heartbeat quickens and they are filled with dread or apprehension.

Example:

Suppose, a person is returning home alone at night and suddenly hears an unknown noise. This leads them to feel that someone is following them. In such a situation, it can be said, “His heart sank.” This indicates that the person is extremely scared and is experiencing great anxiety.

Conclusion: The idiom “Dil Baithna” illustrates the state of human emotions where sudden fear or anxiety causes one’s heart to sink. It also tells us how sometimes circumstances can have a profound impact on our heart and mind. It teaches us that unexpected events and situations in life can cause us to experience panic and fear, but we should maintain our composure and courage while facing these situations. “Dil Baithna” is only a transient feeling, and we should overcome it and move forward.

Story of ‌‌Dil Baithna Idiom in English:

Once upon a time, in a small village, there lived a young man named Anubhav. Anubhav was brave and enthusiastic, but sometimes he would get scared by sudden occurrences.

One night, Anubhav was returning home through a forest path with his friends. It was a moonlit night, and the shadows of the trees danced on the path. Suddenly, they heard some rustling in the bushes. Anubhav’s friends thought it might just be the wind, but Anubhav felt as if someone was following them.

Anubhav’s heartbeat quickened, and he felt as if his heart had sunk. Overcome with fear, he stopped and asked his friends, “Is someone following us?” His friends reassured him that no one was there and that they were all safe.

As they moved forward, Anubhav realized that his fear was baseless. The noise he had heard was just a small animal hiding in the bushes. Anubhav sighed in relief and said to his friends with a smile, “I thought my heart had sunk, but now I realize it was all in my imagination.”

That night, Anubhav learned an important lesson. He learned that sometimes our fears and anxieties can be bigger than reality and make us feel unnecessarily scared. Idioms like “Dil Baithna” teach us that sometimes our fear and panic are without any solid reason, and we should maintain our self-control in these situations. Anubhav also learned from this experience that courage and stability always help in overcoming fear.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।