Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » धड़ल्ले के साथ अर्थ, प्रयोग (Dhadalle ke saath)

धड़ल्ले के साथ अर्थ, प्रयोग (Dhadalle ke saath)

परिचय: “धड़ल्ले के साथ” एक लोकप्रिय हिंदी मुहावरा है, जिसका प्रयोग अक्सर भाषा की शैली को प्रभावशाली बनाने के लिए किया जाता है। यह मुहावरा विशेष रूप से उन परिस्थितियों में प्रयोग किया जाता है, जहां किसी काम को बिना किसी रुकावट के और पूरी ऊर्जा तथा उत्साह के साथ किया जाता है।

अर्थ: “धड़ल्ले के साथ” का अर्थ है किसी काम को बहुत तेजी और उत्साह के साथ करना। यह उस स्थिति को दर्शाता है जब किसी व्यक्ति या समूह द्वारा कोई कार्य बड़ी ही शान और बेबाकी से किया जाता है।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग उन परिस्थितियों में होता है, जहाँ कोई कार्य जोर-शोर से, बिना किसी डर या हिचक के किया जा रहा हो। यह अक्सर उन कामों के सन्दर्भ में प्रयोग किया जाता है जिनमें लोगों का पूरा उत्साह और समर्पण नजर आता है।

उदाहरण:

-> मुनीश ने अपने नए प्रोजेक्ट पर धड़ल्ले के साथ काम शुरू किया।

-> इस वर्ष की दिवाली की सफाई तो हमने धड़ल्ले के साथ की।

निष्कर्ष: “धड़ल्ले के साथ” मुहावरा हमें उत्साह और समर्पण के साथ कार्य करने की प्रेरणा देता है। यह न केवल काम के प्रति हमारे उत्साह को दर्शाता है, बल्कि यह भी बताता है कि किसी कार्य को पूरी लगन और जोश के साथ करने पर हमें सफलता अवश्य मिलती है। इस मुहावरे के माध्यम से हमें यह सिखने को मिलता है कि जीवन में किसी भी कार्य को पूर्ण ऊर्जा और सकारात्मकता के साथ करना चाहिए।

धड़ल्ले के साथ मुहावरा पर कहानी:

एक छोटे से गाँव में एक लड़का रहता था, नाम था अर्जुन। अर्जुन का सपना था एक बड़ा पायलट बनना। उसके सपने बड़े थे, लेकिन संसाधन कम। फिर भी, उसके हौसले बुलंद थे और वह हर दिन अपने सपने की ओर बढ़ता जा रहा था।

गाँव के स्कूल में पढ़ते हुए, अर्जुन ने विमानन की किताबें पढ़ना शुरू किया। उसने अपने शिक्षकों और गाँव वालों की मदद से एक छोटा विमान मॉडल भी बनाया। उसका यह प्रोजेक्ट धड़ल्ले के साथ चल रहा था। सभी उसके जुनून और मेहनत को देखकर हैरान थे।

एक दिन गाँव में एक बड़ी प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। अर्जुन ने अपने विमान मॉडल के साथ भाग लिया। उसके मॉडल ने सभी को प्रभावित किया और वह प्रतियोगिता में प्रथम आया। उसकी इस सफलता ने गाँव में धूम मचा दी।

अर्जुन की कहानी से यह सिखने को मिलता है कि “धड़ल्ले के साथ” कार्य करने पर बड़ी सफलता मिलती है। अर्जुन ने अपने सपनों को पूरा करने के लिए जो जोश और उत्साह दिखाया, वह सभी के लिए प्रेरणा का स्रोत बन गया। उसकी कहानी हमें बताती है कि किसी भी कार्य को अगर पूरे दिल से और जोश के साथ किया जाए, तो सफलता निश्चित है।

शायरी:

धड़ल्ले से चलते हैं, हम अपने रास्ते पर,

जीवन की इस दौड़ में, नहीं रुकते एक पल भर।

हर मुश्किल को चीर कर, आगे बढ़ते जाते हैं,

धड़ल्ले की इस राह में, खुद को परखते जाते हैं।

हर तूफान से कह दो, हमसे टकराने ना आए,

हम तो धड़ल्ले से चलें, जो भी आए, बहा ले जाए।

जीवन की इस डगर में, हर कदम पे नई चुनौती,

पर हम तो धड़ल्ले से चलें, बना हर पल को खूबसूरती।

सपनों की ये उड़ान है, धड़ल्ले से हम चलते हैं,

हर मंजिल को पाने की, इस जुनून में बढ़ते हैं।

 

धड़ल्ले के साथ शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of धड़ल्ले के साथ – Dhadalle Ke Saath Idiom:

Introduction: “धड़ल्ले के साथ” (Dhadalle Ke Saath) is a popular Hindi idiom often used to enhance the style of language. This idiom is particularly used in situations where a task is done without any hindrance, with full energy and enthusiasm.

Meaning: The meaning of “धड़ल्ले के साथ” is to do a task with great speed and enthusiasm. It represents a situation where an individual or a group performs a task with great flair and boldness.

Usage: This idiom is used in situations where a task is being done energetically, without any fear or hesitation. It is often applied to tasks where people’s complete enthusiasm and dedication are evident.

Example:

-> Munish started working on his new project with great vigor.

-> This year, we did the Diwali cleaning with full enthusiasm.

Conclusion: The idiom “धड़ल्ले के साथ” inspires us to work with enthusiasm and dedication. It not only reflects our zeal towards work but also indicates that success is assured when a task is done with full commitment and vigor. This idiom teaches us that any task in life should be undertaken with full energy and positivity.

Story of ‌‌Dhadalle Ke Saath Idiom in English:

In a small village, there lived a boy named Arjun. Arjun dreamed of becoming a great pilot. His dreams were big, but his resources were limited. Nevertheless, his spirits were high, and he kept moving closer to his dream every day.

While studying in the village school, Arjun started reading books on aviation. With the help of his teachers and villagers, he also built a small model airplane. His project was progressing with great enthusiasm. Everyone was amazed by his passion and hard work.

One day, a big competition was organized in the village. Arjun participated with his airplane model. His model impressed everyone, and he won first place in the competition. His success created a buzz in the village.

Arjun’s story teaches us that working “with great enthusiasm” leads to great success. The zeal and enthusiasm he showed in fulfilling his dreams became a source of inspiration for all. His story tells us that if any task is done wholeheartedly and with passion, success is guaranteed.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।