Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » अपना सा मुँह लेकर रह जाना मुहावरा, अर्थ, प्रयोग (Apna sa muh lekar rah jana)

अपना सा मुँह लेकर रह जाना मुहावरा, अर्थ, प्रयोग (Apna sa muh lekar rah jana)

अपना सा मुँह लेकर रह जाना मुहावरा, हिंदी मुहावरे चित्र, बुद्धिमान हिंदी मुहावरे.

अर्थ: ‘अपना सा मुँह लेकर रह जाना’ इस मुहावरे का अर्थ है निराश हो जाना या उदास हो जाना। यह तब प्रयुक्त होता है जब किसी व्यक्ति को किसी बात का दुःख होता है और वह उस दुःख को अपने चेहरे पर प्रकट करता है।

प्रयोग: जब किसी को किसी घातक समाचार या घटना का पता चलता है और वह उससे प्रभावित होता है, तो ‘अपना सा मुँह लेकर रह जाना’ मुहावरे का प्रयोग होता है।

उदाहरण: “राम ने सुना कि उसका प्रिय कुत्ता चल बसा, तो वह पूरे दिन ‘अपना सा मुँह लेकर रह गया।”

अपना सा मुँह लेकर रह जाना मुहावरा पर कहानी:

राम और श्याम दो अच्छे दोस्त थे। एक दिन, श्याम ने राम को बताया कि वह अपनी नौकरी खो बैठा है। राम ने श्याम को समझाने की कोशिश की कि वह दूसरी नौकरी ढूंढ सकता है, लेकिन श्याम का मन नहीं बना। वह पूरे दिन घर में बैठकर ‘अपना सा मुँह लेकर रह गया’। राम ने देखा कि उसके दोस्त को उसकी जरूरत है, तो उसने श्याम को अपने साथ नौकरी की खोज में ले जाया। धीरे-धीरे, श्याम का मन फिर से खुला और उसने अपनी जिंदगी में वापसी की।

शायरी:

जब जीवन की राहों में अधूरापन सा छा जाए,

और हर खुशी संग दूरियाँ बढ़ा जाए।

जब दिल भारी हो और सपने टूट जाएं,

तो समझो ‘अपना सा मुँह लेकर’ ही रह जाएं।

 

अपना सा मुँह लेकर रह जाना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of अपना सा मुँह लेकर रह जाना – Apna sa muh lekar rah jana Idiom:

Meaning: The idiom ‘Apna sa muh lekar rah jana’ translates to ‘to wear a familiar face’ and signifies feeling dejected or sad. It is used when someone is visibly upset or affected by something.

Usage: It is used when someone is deeply affected by some news or event and shows their sadness on their face.

Example: “When Ram heard that his favorite dog had passed away, he wore a dejected face all day.”

Story of Apna sa muh lekar rah jana in English:

Ram and Shyam were good friends. One day, Shyam told Ram that he had lost his job. Ram tried to console Shyam and told him he could find another job, but Shyam was not convinced. He sat at home all day with a dejected face. Seeing his friend in such a state, Ram decided to take Shyam job hunting with him. Gradually, Shyam’s spirits lifted, and he found his way back into life.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly.

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

2 टिप्पणियाँ

  1. पिंगबैक: List of Hindi Muhavare - Budhimaan

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"टुकड़ा खाए दिल बहलाए कहावत का प्रतीकात्मक चित्र", "कपड़े फाटे घर को आए कहावत की व्याख्या वाला चित्र", "आर्थिक संघर्ष दर्शाती Budhimaan.com की छवि", "भारतीय ग्रामीण जीवन का यथार्थ चित्रण"
Kahavaten

टुकड़ा खाए दिल बहलाए, कपड़े फाटे घर को आए, अर्थ, प्रयोग(Tukda khaye dil bahlaye, Kapde fate ghar ko aaye)

“टुकड़ा खाए दिल बहलाए, कपड़े फाटे घर को आए” यह हिंदी कहावत कठिन परिस्थितियों में जीवन यापन करने के संघर्ष को दर्शाती है। इस कहावत

Read More »
"टका सर्वत्र पूज्यन्ते कहावत का चित्रण", "धन और सामाजिक सम्मान का प्रतीकात्मक चित्र", "भारतीय समाज में धन का चित्रण", "हिंदी कहावतों का विश्लेषण - Budhimaan.com"
Kahavaten

टका सर्वत्र पूज्यन्ते, बिन टका टकटकायते, अर्थ, प्रयोग(Taka sarvatra pujyate, Bin taka taktakayte)

परिचय: हिंदी की यह कहावत “टका सर्वत्र पूज्यन्ते, बिन टका टकटकायते” धन के महत्व और समाज में इसके प्रभाव पर जोर देती है। यह कहावत

Read More »
"टेर-टेर के रोवे कहावत का प्रतीकात्मक चित्र", "Budhimaan.com पर व्यक्तिगत समस्याओं का समाधान", "सामाजिक प्रतिष्ठा की रक्षा करती कहावत का चित्र", "हिंदी प्रवचनों की व्याख्या वाला चित्र"
Kahavaten

टेर-टेर के रोवे, अपनी लाज खोवे, अर्थ, प्रयोग(Ter-ter ke rove, Apni laj khove)

“टेर-टेर के रोवे, अपनी लाज खोवे” यह हिंदी कहावत व्यक्तिगत समस्याओं को बार-बार और सबके सामने व्यक्त करने के परिणामों को दर्शाती है। इस कहावत

Read More »
"ठग मारे अनजान कहावत का प्रतीकात्मक चित्र", "Budhimaan.com पर बनिया मारे जान कहावत का विश्लेषण", "धोखाधड़ी के विभिन्न रूप दर्शाती कहावत का चित्र", "हिंदी प्रवचनों की गहराई का चित्रण"
Kahavaten

ठग मारे अनजान, बनिया मारे जान, अर्थ, प्रयोग(Thag mare anjaan, Baniya maare jaan)

“ठग मारे अनजान, बनिया मारे जान” यह हिंदी कहावत विभिन्न प्रकार के छल-कपट की प्रकृति को दर्शाती है। इस कहावत के माध्यम से, हम यह

Read More »
"टका हो जिसके हाथ में कहावत का चित्रण", "समाज में धन की भूमिका का चित्र", "भारतीय कहावतों का चित्रात्मक प्रतिनिधित्व", "Budhimaan.com पर हिंदी कहावतों का विश्लेषण"
Kahavaten

टका हो जिसके हाथ में, वह है बड़ा जात में, अर्थ, प्रयोग(Taka ho jiske haath mein, Wah hai bada jaat mein)

“टका हो जिसके हाथ में, वह है बड़ा जात में” यह हिंदी कहावत समाज में धन के प्रभाव और उसकी महत्वपूर्णता पर प्रकाश डालती है।

Read More »
"टट्टू को कोड़ा और ताजी को इशारा कहावत का चित्रण", "बुद्धिमत्ता और मूर्खता पर आधारित हिंदी कहावत का चित्र", "Budhimaan.com पर हिंदी कहावतों की व्याख्या", "जीवन शैली और सीख का प्रतिनिधित्व करता चित्र"
Kahavaten

टट्टू को कोड़ा और ताजी को इशारा, अर्थ, प्रयोग(Tattoo ko koda aur tazi ko ishara)

“टट्टू को कोड़ा और ताजी को इशारा” यह हिंदी कहावत बुद्धिमत्ता और मूर्खता के बीच के व्यवहारिक अंतर को स्पष्ट करती है। इस कहावत के

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।