Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » आँतें कुलकुलाना अर्थ, प्रयोग(Aante kulkulana)

आँतें कुलकुलाना अर्थ, प्रयोग(Aante kulkulana)

परिचय: “आँतें कुलकुलाना” एक लोकप्रिय हिंदी मुहावरा है जो भूख की तीव्र अनुभूति को दर्शाता है। इस मुहावरे का प्रयोग तब होता है जब कोई व्यक्ति भूख से इतना अधिक पीड़ित होता है कि उसके पेट में हलचल महसूस होने लगती है।

अर्थ: आम बोलचाल में “आँतें कुलकुलाना” का अर्थ होता है भूख के कारण पेट में होने वाली हलचल या गुड़गुड़ाहट। यह अक्सर तब प्रयोग किया जाता है जब किसी व्यक्ति को भोजन न मिलने के कारण शारीरिक असुविधा महसूस होती है।

प्रयोग: यह मुहावरा भूख के शारीरिक प्रभाव को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है। उदाहरण के तौर पर, जब कोई व्यक्ति लंबे समय तक बिना भोजन के रहता है, तो उसके लिए कहा जाता है कि “उसकी आँतें कुलकुला रही हैं।”

उदाहरण:

-> अमन ने सुबह से कुछ नहीं खाया था और दोपहर तक उसकी आँतें कुलकुलाने लगीं।

निष्कर्ष: “आँतें कुलकुलाना” मुहावरा हमें यह बताता है कि भूख किसी भी मनुष्य के लिए एक प्राकृतिक और अनिवार्य प्रक्रिया है, जिसका सामना करना पड़ता है। यह मुहावरा भूख की शारीरिक प्रक्रिया और उसके प्रभावों को प्रकट करता है।

Hindi Muhavare Quiz

आँतें कुलकुलाना मुहावरा पर कहानी:

एक छोटे से गाँव में अनुभव नाम का एक युवक रहता था। अनुभव का परिवार बहुत ही साधारण था और उसके पिता दिन-रात मेहनत करते थे ताकि परिवार को पाला जा सके। एक दिन अनुभव के पिता बीमार पड़ गए और काम पर जाने में असमर्थ हो गए। इस कारण उनकी आमदनी बंद हो गई और घर में खाने-पीने की चीजें कम होने लगीं।

अनुभव ने देखा कि उसकी माँ बचे हुए अनाज से किसी तरह खाना बना रही थीं। उस दिन उसने दोपहर का भोजन नहीं किया था और शाम होते-होते उसके पेट में भूख के कारण अजीब सी हलचल होने लगी। अनुभव ने सोचा, “शायद यही होता है जब आँतें कुलकुलाने लगती हैं।”

वह समझ गया कि उसे अब घर की जिम्मेदारी संभालनी होगी। अगले दिन, अनुभव ने निर्णय लिया कि वह गाँव के बाहर जाकर काम ढूंढेगा। उसने कई दिनों तक मेहनत की और आखिरकार उसे एक दुकान में काम मिल गया।

अनुभव की मेहनत और लगन से उसके परिवार की स्थिति फिर से सामान्य हो गई। उसने समझ लिया कि जीवन में कठिनाइयाँ आती हैं, लेकिन आत्मबल और परिश्रम से हर परिस्थिति का सामना किया जा सकता है। अनुभव ने न केवल अपनी आँतों की कुलकुलाहट को शांत किया, बल्कि अपने परिवार को भी एक नई दिशा दिखाई।

निष्कर्ष:

इस कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है कि “आँतें कुलकुलाना” का मतलब सिर्फ भूख नहीं, बल्कि जीवन में आने वाली अनपेक्षित कठिनाइयों का सामना करने की आंतरिक शक्ति और दृढ़ निश्चय है।

शायरी:

भूख की आग में जलती हुई आँतें, बयां करती हैं दास्तानें,

कुलकुलाहट में छुपा है जीवन का अफसाना, जीने की हर ठानें।

कठिनाइयों का सागर, जिंदगी की लहरों में डूबा,

आँतों की कुलकुलाहट ने, हर दर्द को रूबरू किया।

जिंदगी के सफर में भूखे पेट की सदा,

आँतें कुलकुलाती हैं, जब हर राह सुनसान हो जाता।

भूख की यह पुकार, जो करती है बेबस,

आँतों की कुलकुलाहट में छुपा, जीवन का सबक बेहद खास।

जिस दिन यह कुलकुलाहट शांत हो जाएगी,

जिंदगी के हर रंग में, नई उमंग बिखर जाएगी।

हर दर्द की एक कहानी, हर भूख की अपनी जुबानी,

आँतों की कुलकुलाहट में, छिपा है जीवन का पूरा फसाना।

 

आँतें कुलकुलाना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of आँतें कुलकुलाना – Aante kulkulana Idiom:

Introduction: “आँतें कुलकुलाना” is a popular Hindi idiom that depicts the intense sensation of hunger. This phrase is used when someone is so afflicted by hunger that they begin to feel movement or rumbling in their stomach.

Meaning: In common parlance, “आँतें कुलकुलाना” means the sensation of churning or rumbling in the stomach due to hunger. It is often used when a person experiences physical discomfort due to lack of food.

Usage: This idiom is used to express the physical effects of hunger. For instance, when a person has been without food for an extended period, it is said that “his/her stomach is churning” (उसकी आँतें कुलकुला रही हैं).

Usage:

-> Aman hadn’t eaten anything since morning, and by afternoon, he started feeling his stomach churning.

Conclusion: The idiom “आँतें कुलकुलाना” reminds us that hunger is a natural and inevitable process that every human being experiences. This phrase articulates the physical process of hunger and its effects.

Story of ‌‌Aante kulkulana Idiom in English:

Once, in a small village, lived a young man named Anubhav. His family was quite ordinary, and his father worked day and night to support them. One day, Anubhav’s father fell ill and became unable to work, halting their income and diminishing their food supplies.

Anubhav observed his mother trying to prepare meals with the little grain they had left. Having skipped lunch, he felt a strange churning in his stomach by evening. He thought, “Perhaps this is what it feels like when your stomach churns with hunger.”

Realizing the need to shoulder his family’s responsibilities, Anubhav decided to look for work outside the village. After days of effort, he finally found a job at a shop.

Anubhav’s hard work and dedication gradually restored his family’s condition to normal. He learned that life is full of challenges, but with resilience and perseverance, one can face any situation. Anubhav not only alleviated his hunger but also steered his family in a new direction.

Conclusion:

This story teaches us that “आँतें कुलकुलाना” (stomach churning) signifies not just hunger but the inner strength and determination to face life’s unexpected challenges.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

FAQs:

क्या इसका सीधा अनुवाद हो सकता है?

नहीं, इसका सीधा अनुवाद करना मुश्किल है क्योंकि इसका अर्थ शब्द-शब्द में नहीं समझाया जा सकता।

इस मुहावरे का प्रयोग कहाँ होता है?

यह मुहावरा अक्सर अधिक बातचीत में या खासकर मनोरंजन के समय बातचीत में प्रयुक्त होता है।

आँतें कुलकुलाना का मतलब क्या है?

आँतें कुलकुलाना का अर्थ होता है बातें बनाना या गप्पें मारना।

क्या इसका अर्थ बदला जा सकता है?

हाँ, कभी-कभी व्यक्ति की आत्मा और भावनाओं के आधार पर इसका अर्थ बदला जा सकता है।

क्या इसका कोई ऐतिहासिक महत्व है?

नहीं, यह मुहावरा दैहिक या ऐतिहासिक महत्व से वंचित है, बल्कि यह दैहिक बोलचाल में प्रयुक्त होता है।

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।