Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » खून का घूँट पीना अर्थ, प्रयोग(Khoon ka ghoont pina)

खून का घूँट पीना अर्थ, प्रयोग(Khoon ka ghoont pina)

परिचय: हिंदी भाषा में विविध मुहावरे हैं जो जीवन की जटिलताओं और भावनाओं को व्यक्त करते हैं। “खून का घूँट पीना” ऐसा ही एक प्रचलित मुहावरा है, जो गहरी पीड़ा और असहायता की भावना को दर्शाता है।

अर्थ: “खून का घूँट पीना” का अर्थ है बहुत अधिक पीड़ा या कष्ट का अनुभव करना, विशेषकर तब जब किसी के पास अपनी व्यथा व्यक्त करने का कोई माध्यम न हो।

प्रयोग: यह मुहावरा अक्सर उन स्थितियों में प्रयोग किया जाता है जहां व्यक्ति को बिना किसी विकल्प के अपने दुख और पीड़ा को अंदर ही अंदर सहना पड़ता है।

उदाहरण:

-> “जब उसने अपनी नौकरी खो दी और परिवार को चलाने के लिए कोई रास्ता नहीं था, उसने खून का घूँट पी लिया।”

-> “अपने सपनों को दूसरों के लिए त्याग कर, वह हमेशा खून का घूँट पीती रही।”

निष्कर्ष: “खून का घूँट पीना” मुहावरा हमें यह सिखाता है कि जीवन में कई बार हमें ऐसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है जहाँ हमें अपनी पीड़ा को चुपचाप सहन करना पड़ता है। यह मुहावरा हमें धैर्य और संघर्ष की भावना से भी परिचित करवाता है, जो अक्सर व्यक्ति के आंतरिक बल का परिचायक होता है।

Hindi Muhavare Quiz

खून का घूँट पीना मुहावरा पर कहानी:

एक समय की बात है, एक गाँव में विकास नाम का एक साधारण किसान रहता था। विकास बहुत मेहनती और लगनशील व्यक्ति था। उसकी जिंदगी की एकमात्र खुशी उसकी बेटी गार्गी थी, जो उसके जीवन का आधार थी।

एक वर्ष, गाँव में अकाल पड़ गया और विकास की सारी फसल बर्बाद हो गई। वह बहुत परेशान हुआ, क्योंकि उसके पास अपनी बेटी की पढ़ाई और घर के खर्च के लिए कोई धन नहीं बचा था।

विकास की परेशानी तब और बढ़ गई जब उसकी बेटी गार्गी को एक महंगे इलाज की जरूरत पड़ी। वह हर जगह मदद के लिए गया, लेकिन कोई भी उसकी सहायता नहीं कर सका। इस दौरान, विकास को अपने दुःख और पीड़ा को अंदर ही अंदर सहन करना पड़ा। उसके पास अपनी व्यथा किसी से कहने का भी साधन नहीं था।

विकास ने खून का घूँट पीकर अपनी बेटी की बीमारी का इलाज कराने का निर्णय लिया। उसने अपनी जमीन बेच दी और गार्गी का इलाज करवाया। गार्गी के स्वस्थ होने पर विकास को सुकून मिला, लेकिन उसके दिल में अपनी जमीन खोने का दर्द हमेशा रहा।

इस कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है कि “खून का घूँट पीना” मुहावरा उन परिस्थितियों को दर्शाता है जहाँ व्यक्ति को अपने दुख और पीड़ा को अंदर ही अंदर बिना किसी को बताए सहन करना पड़ता है। यह मुहावरा हमें जीवन के कठिन पलों में धैर्य और साहस बनाए रखने की प्रेरणा देता है।

शायरी:

दिल में दर्द की आग लिए, मुस्कुराहट के फूल खिलाए,

जैसे खून का घूँट पीकर, जिंदगी के गीत गाए।

हर दुख में छुपा है एक सबक, हर आंसू में एक कहानी,

खून के घूँट पीना भी है, जीवन की एक पुरानी रवानी।

बिन कहे जो दर्द सहे, वो जाने कैसे जीता है,

खून का घूँट पीकर भी, जो मुस्कुराए, वही तो कवि कहलाता है।

जिंदगी के सफर में, हर खुशी, हर गम पी लिया,

जैसे खून का घूँट पीकर, हर मंजिल को छू लिया।

वक्त की राहों में, अनकही बातों का बोझ उठाया,

खून का घूँट पीकर, जिंदगी को सलाम ठोक आया।

 

खून का घूँट पीना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of खून का घूँट पीना – Khoon ka ghoont pina Idiom:

Introduction: In the Hindi language, there are various idioms that express the complexities and emotions of life. “खून का घूँट पीना” (Swallowing a gulp of blood) is one such popular idiom that illustrates deep anguish and a sense of helplessness.

Meaning: “खून का घूँट पीना” means to experience intense pain or distress, especially when one has no means to express their suffering.

Usage: This idiom is often used in situations where a person has to endure their sorrow and pain silently without any alternatives.

Example:

-> “When he lost his job and had no means to support his family, he swallowed a gulp of blood.”

-> “By sacrificing her dreams for others, she always swallowed a gulp of blood.”

Conclusion: The idiom “खून का घूँट पीना” teaches us that in life, we often face situations where we have to silently endure our pain. This idiom also acquaints us with the spirit of patience and struggle, which often signifies the inner strength of a person.

Story of ‌‌Khoon ka ghoont pina Idiom in English:

Once upon a time, in a village, there lived a simple farmer named Vikas. Vikas was a hardworking and dedicated person. His only joy in life was his daughter Gargi, who was the foundation of his life.

One year, a drought struck the village, and all of Vikas’s crops were destroyed. He became very distressed, as he had no money left for his daughter’s education and household expenses.

Vikas’s troubles increased when his daughter Gargi needed expensive medical treatment. He sought help everywhere, but no one could assist him. During this time, Vikas had to endure his sorrow and pain internally. He had no means to express his anguish to anyone.

Vikas made the painful decision to sell his land to fund his daughter’s treatment, swallowing his grief like a gulp of blood. He managed to get Gargi treated, and though he felt relieved at her recovery, the pain of losing his land always remained in his heart.

This story teaches us that the idiom “खून का घूँट पीना” (swallowing a gulp of blood) represents situations where a person has to silently endure their pain and grief. This idiom inspires us to maintain patience and courage during the difficult moments of life.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

FAQs

यह मुहावरा किस प्रकार का होता है?

यह मुहावरा कठिनाईयों या अधिक परेशानियों के सामने अपनी हिम्मत या साहस का व्यक्तिगत अभिव्यक्ति है।

इस मुहावरे का अर्थ क्या है?

इसका अर्थ है किसी भयानक या कठिन संघर्ष का सामना करना।

क्या “खून का घूँट पीना” एक मुहावरा है?

हां, “खून का घूँट पीना” एक हिंदी मुहावरा है।

इस मुहावरे का उपयोग किस प्रकार किया जाता है?

यह मुहावरा आमतौर पर किसी कठिनाई या परेशानी को पार करने के समय के लिए उपयोग किया जाता है।

क्या यह मुहावरा वास्तव में खून का अर्थ करता है?

नहीं, यह मुहावरा वास्तव में खून का अर्थ नहीं करता है, बल्कि यह एक अभिव्यक्ति है जिसमें किसी को किसी तरह के संघर्ष का सामना करना पड़ता है।

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।