Budhimaan

Home » Hindi Muhavare » छींकते ही नाक कटना अर्थ, प्रयोग (Chhinkte hi naak katna)

छींकते ही नाक कटना अर्थ, प्रयोग (Chhinkte hi naak katna)

परिचय: ‘छींकते ही नाक कटना’ यह हिंदी का एक प्रसिद्ध मुहावरा है, जो किसी व्यक्ति के अनुचित समय पर अनुपयुक्त काम करने की स्थिति को दर्शाता है। यह मुहावरा उन परिस्थितियों के लिए प्रयुक्त होता है जहाँ किसी की छोटी सी गलती या असावधानी बड़े नुकसान का कारण बन जाती है।

अर्थ: ‘छींकते ही नाक कटना’ मुहावरे का शाब्दिक अर्थ है कि किसी व्यक्ति की नाक छींकने से कट जाए, जो वास्तव में असंभव है। लेकिन, लाक्षणिक अर्थ में यह संकेत देता है कि किसी छोटी गलती या अनध्यानता से बड़ी हानि या शर्मिंदगी हो सकती है।

प्रयोग: इस मुहावरे का प्रयोग उन परिस्थितियों में किया जाता है जब किसी की छोटी भूल से बड़ी समस्या उत्पन्न हो जाती है या किसी को अप्रत्याशित रूप से शर्मसार होना पड़ता है। उदाहरण, यदि किसी कार्यालय में एक छोटी सी गलती के कारण बड़ा वित्तीय नुकसान हो जाए, तो कहा जा सकता है कि “इस गलती से तो उनकी छींकते ही नाक कट गई।”

उदाहरण:

-> अनुज ने अपने बॉस के सामने अनजाने में एक गुप्त जानकारी उजागर कर दी, जिससे उसकी नौकरी पर बुरा असर पड़ा। उस स्थिति को देखते हुए कह सकते हैं, “अनुज की तो छींकते ही नाक कट गई।”

-> गार्गी ने परीक्षा में चोरी करने की कोशिश की और पकड़ी गई, जिससे उसकी छवि खराब हो गई। यहां कहा जा सकता है कि “गार्गी की छींकते ही नाक कट गई।”

निष्कर्ष: ‘छींकते ही नाक कटना’ मुहावरा हमें यह सिखाता है कि हमें हमेशा सोच-समझकर और सावधानी से काम करना चाहिए। यह बताता है कि कभी-कभी छोटी सी असावधानी या गलती से भी बड़ी हानि हो सकती है। इसलिए, इस मुहावरे का उपयोग करके, हम लोगों को यह संदेश दे सकते हैं कि वे अपने कामों को ध्यान से और सोच-समझकर करें, ताकि उन्हें बाद में पछताना न पड़े। यह मुहावरा हमारी भाषा में समृद्धि और गहराई जोड़ता है और जीवन के अनेक पहलुओं को स्पष्ट करता है।

छींकते ही नाक कटना मुहावरा पर कहानी:

एक छोटे से गाँव में विकास नाम का एक युवक रहता था। विकास काफी होशियार और कर्मठ था, लेकिन कभी-कभी वह बिना सोचे-समझे काम कर बैठता था। गाँव में उसके पिता की दुकान थी, जिसमें वह अक्सर मदद किया करता था।

एक दिन, गाँव में एक बड़ा त्योहार था और दुकान पर ग्राहकों की भीड़ थी। विकास के पिता ने उसे दुकान के गल्ले में रखे पैसे संभालने की जिम्मेदारी दी। विकास ने लापरवाही से गल्ले की चाबी दुकान के काउंटर पर ही छोड़ दी।

कुछ देर बाद, जब वह वापस आया, तो देखा कि गल्ला खुला हुआ था और उसमें से सारे पैसे गायब थे। यह देखकर विकास और उसके पिता बहुत परेशान हो गए। गाँव के लोगों में भी इस बात की चर्चा होने लगी कि विकास की एक छोटी सी लापरवाही से उनके परिवार को इतनी बड़ी हानि हो गई।

विकास के पिता ने उसे समझाया, “बेटा, तुम्हारी इस छोटी सी गलती ने हमें बड़ा नुकसान पहुंचाया है। तुम्हें अपने कामों में और अधिक सावधानी बरतनी चाहिए थी।”

विकास ने अपनी गलती महसूस की और कहा, “पिताजी, मुझे अब समझ में आया है कि छोटी सी गलती भी कितनी बड़ी समस्या पैदा कर सकती है। आगे से मैं ज्यादा सतर्क रहूंगा।”

इस घटना के बाद, विकास ने अपने काम में और अधिक सावधानी और जिम्मेदारी दिखाई। गाँववाले भी इस घटना को याद करते हुए कहते, “विकास की तो छींकते ही नाक कट गई थी, लेकिन अब वह बहुत सावधान हो गया है।”

इस प्रकार, इस कहानी के माध्यम से हमें यह सीख मिलती है कि छोटी सी लापरवाही या गलती भी बड़ी हानि का कारण बन सकती है। ‘छींकते ही नाक कटना’ मुहावरे का अर्थ है कि अनध्यानता या लापरवाही से किया गया काम अक्सर बड़ी मुसीबत में डाल सकता है। इसलिए हमेशा सावधानी और सोच-समझकर काम करना चाहिए।

शायरी:

छींकते ही जो नाक कटी, वो बात और थी,

गलतियों का हिसाब लगा, रात और थी।

हर कदम पर सोचा करो, सावधानी है जरूरी,

जिंदगी के इस सफर में, हर गलती नहीं मंजूरी।

छोटी सी भूल ने कर दिया, काम तमाम कई बार,

इस दुनिया की राह में, हर खता है गुनाह का आभार।

‘छींकते ही नाक कटना’, कहावत है पुरानी,

लेकिन इसका असर, आज भी है जवानी।

संभल कर चलो दोस्तो, ये जिंदगी है नाजुक,

हर लम्हा है कीमती, इसे ना बनाओ मजाक।

 

छींकते ही नाक कटना शायरी

आशा है कि आपको इस मुहावरे की समझ आ गई होगी और आप इसका सही प्रयोग कर पाएंगे।

Hindi to English Translation of छींकते ही नाक कटना – Chhinkte hi naak katna Idiom:

Introduction: ‘To have one’s nose cut off as soon as they sneeze’ is a famous Hindi idiom, which describes a situation where a person does something inappropriate at an inopportune time. This idiom is used in scenarios where a small mistake or carelessness leads to significant losses or consequences.

Meaning: The literal translation of the idiom ‘To have one’s nose cut off as soon as they sneeze’ is that a person’s nose gets cut off when they sneeze, which is, of course, impossible. However, metaphorically, it implies that a small error or inattention can lead to significant harm or embarrassment.

Usage: This idiom is used in situations where a small mistake by someone causes a big problem or unexpectedly leads to embarrassment. For example, if a minor error in an office causes a significant financial loss, it can be said, “Their nose got cut off as soon as they sneezed because of this mistake.”

Example:

-> Anuj inadvertently revealed a secret in front of his boss, negatively impacting his job. In this situation, it can be said, “Anuj had his nose cut off as soon as he sneezed.”

-> Gargi tried to cheat in an exam and got caught, which tarnished her image. Here, it can be said, “Gargi had her nose cut off as soon as she sneezed.”

Conclusion: The idiom ‘To have one’s nose cut off as soon as they sneeze’ teaches us that we should always work thoughtfully and carefully. It shows that sometimes even a small lack of attention or mistake can cause significant harm. Therefore, by using this idiom, we can convey to people that they should perform their tasks carefully and thoughtfully to avoid future regrets. This idiom adds richness and depth to our language and clarifies various aspects of life.

Story of ‌‌Chhinkte hi naak katna Idiom in English:

In a small village lived a young man named Vikas. Vikas was quite intelligent and hardworking, but sometimes he acted without thinking. His father owned a shop in the village, where Vikas often helped.

One day, there was a big festival in the village, and the shop was crowded with customers. Vikas’s father entrusted him with the responsibility of handling the money kept in the cash box. Carelessly, Vikas left the key to the cash box on the shop counter.

Later, when he returned, he found the cash box open and all the money gone. This greatly distressed Vikas and his father. The villagers also began to talk about how Vikas’s small act of negligence had caused such a significant loss to his family.

Vikas’s father explained to him, “Son, your small mistake has caused us a great loss. You should have been more careful in your tasks.”

Realizing his mistake, Vikas said, “Father, I now understand how a small mistake can create such a big problem. I will be more cautious in the future.”

After this incident, Vikas became more careful and responsible in his work. The villagers, remembering the incident, would say, “Vikas’s nose was cut off as soon as he sneezed, but now he has become very careful.”

Thus, this story teaches us that even a small act of negligence or mistake can lead to significant losses. The idiom ‘To have one’s nose cut off as soon as they sneeze’ means that inattention or carelessness in one’s actions can often lead to big troubles. Therefore, one should always be cautious and thoughtful in their actions.

 

I hope this gives you a clear understanding of the proverb and how to use it correctly

हिंदी मुहावरों की पूरी लिस्ट एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टिप्पणी करे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Budhimaan Team

Budhimaan Team

हर एक लेख बुधिमान की अनुभवी और समर्पित टीम द्वारा सोख समझकर और विस्तार से लिखा और समीक्षित किया जाता है। हमारी टीम में शिक्षा के क्षेत्र में विशेषज्ञ और अनुभवी शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने विद्यार्थियों को शिक्षा देने में वर्षों का समय बिताया है। हम सुनिश्चित करते हैं कि आपको हमेशा सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी जानकारी मिले।

संबंधित पोस्ट

"खाइए मनभाता पहनिए जगभाता मुहावरे का चित्रण", "गाँव की शादी में समाज के अनुरूप वेशभूषा में युवक", "सादगीपसंद खाने और समाजिक वस्त्रों में संतुलन", "Budhimaan.com पर जीवन शैली और संस्कृति"
Hindi Muhavare

खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता अर्थ, प्रयोग (Khaiye manbhata, Pahniye jagbhata)

परिचय: “खाइए मनभाता, पहनिए जगभाता” यह एक प्रचलित हिंदी मुहावरा है जो जीवन में एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाने की सलाह देता है। यह मुहावरा हमें

Read More »
"करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत मुहावरे का चित्रण", "सकारात्मक कार्यों में ऊर्जा निवेश करते व्यक्ति की छवि", "Budhimaan.com पर सकारात्मक योगदान की प्रेरणा", "विवादों की बजाय कर्म पर ध्यान केंद्रित करता किसान"
Hindi Muhavare

करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत अर्थ, प्रयोग (Karni na kartoot, Ladne ko majboot)

परिचय: “करनी न करतूत, लड़ने को मजबूत” एक हिंदी मुहावरा है जो उन व्यक्तियों के व्यवहार को उजागर करता है जो वास्तव में तो कुछ

Read More »
"ईंट की लेनी पत्थर की देनी कहानी चित्र", "मुहावरे का विवेचन आलेख छवि", "छोटी गलती बड़ा प्रतिशोध इलस्ट्रेशन", "Budhimaan.com पर जीवन की सीख ग्राफिक्स"
Hindi Muhavare

ईंट की लेनी पत्थर की देनी अर्थ, प्रयोग (Eent ki leni patthar ki deni)

परिचय: “ईंट की लेनी पत्थर की देनी” यह मुहावरा हिन्दी भाषा में बहुत प्रचलित है, जिसका प्रयोग अक्सर किसी के द्वारा की गई छोटी कार्रवाई

Read More »
"उत्तम खेती मध्यम बान इमेज", "स्वावलंबन का महत्व चित्र", "भारतीय मुहावरे विश्लेषण ग्राफिक", "Budhimaan.com पर आत्मनिर्भरता लेख इमेज"
Hindi Muhavare

उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान अर्थ, प्रयोग (Uttam kheti madhaym baan, Nikrasht chakri bheekh nidan)

परिचय: “उत्तम खेती मध्यम बान, निकृष्ट चाकरी भीख निदान” एक प्राचीन हिंदी मुहावरा है जो विभिन्न पेशों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की तुलना करता

Read More »

आजमाएं अपना ज्ञान!​

बुद्धिमान की इंटरैक्टिव क्विज़ श्रृंखला, शैक्षिक विशेषज्ञों के सहयोग से बनाई गई, आपको भारत के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर देती है। पता लगाएं कि आप भारत की विविधता और समृद्धि को कितना समझते हैं।